कैलाश विजयवर्गीय व केंद्रीय मंत्री किशन रेड्डी अग्निवीर के प्रति दिये बयान को भारतीय सेना का मनोबल गिराने वाला और अपमानजनक है: एजाज अहमद

0

पटना, बिहार दूत न्यूज खगड़िया।
बिहार प्रदेश राष्ट्रीय जनता दल के प्रवक्ता एजाज़ अहमद ने कहा कि भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने भारतीय सेना के अग्निवीर के संबंध में जिस तरह की बातें कही है ,ये पूरी तरह से निंदनीय और कहीं ना कहीं अग्निवीर भारतीय सेना का अपमान है और उनके मनोबल को गिराने वाला वक्तव्य है। अविलंब माफी की मांग की।
इन्होंने कहा कि इस संबंध में पहले से ही समझ में आ रहा था कि भाजपा और इनके कारपोरेट घराने के लोग उन 75% अग्निवीर का अपने हित में इस्तेमाल करने के लिए ही है इस तरह की अग्निपथ योजना लेकर आए हैं, जो कैलाश विजयवर्गीय के दिए बयान से ही स्पष्ट हो गया है। इस योजना में ना तो भविष्य की कोई चिंता है और ना ही पेंशन या अन्य तरह की बातें हैं । साथ ही साथ सेना में सेवा के पहले ही उन्हें कहीं ना कहीं 4 वर्षों के बाद अलग कर दिया जाएगा ,जो किसी भी दृष्टिकोण से उचित नहीं है। इस तरह की बातों को देखते हुए ही कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि इन अग्निवीरों को 4 साल के बाद भाजपा के राज्य कार्यालय और अन्य कार्यालयों में गार्ड के तौर पर रख लिया जाएगा। इतना ही नहीं उन्होंने कहा कि इन्हें जो तमगा अग्निवीर को मिलेगा उसका इस्तेमाल इस तरह के कार्यों मे कर सकते हैं। इसके अलावा भाजपा के ही एक अन्य नेता और केंद्रीय मंत्री किशन रेड्डी ने भी कहा है कि इन अग्निवीर को ड्राइवर, बिजली का काम करने ,कपड़े धोने, बाल काटने ,कपड़े सिलने जैसे अन्य कामों के उपयोग में इस्तेमाल किया जाएगा ।
एजाज ने कहा कि भाजपा नेताओं के इस तरह की अपमानजनक बातें करना सेना और अग्निवीर के प्रति किस तरह का सोच भाजपा का है ये स्पष्ट हो गया और साथ ही साथ इनका क्या सोच है उसका सच भी उजागर हो गया। जिसके संबंध में लगातार लोग आशंका व्यक्त कर रहे थे कि भाजपा अपने एजेंडे के तहत ही इस तरह की अग्निपथ योजना लेकर सामने आई है, यह उनके नेताओं के बयान से स्पष्ट हो गया।
इन्होंने अविलंब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से ऐसे बयानवीर भाजपा नेताओं को पार्टी से अलग करने और उन नेताओ से भारतीय सेना से माफी की मांग की है, जिन्होंने इनका अपमान और मनोबल गिराने का काम किया है और ऐसी बातें करके देश की सेवा के लिए सेना में आकर अपना सब कुछ न्योछावर करने वाले और उनका देश सेवा के प्रति समर्पण का भाव को भी कही न कही कम किया है ।जिस बात का डर था वही बात हो गई और भाजपा इस मुद्दे पर राजनीति कर रही है।

Leave a Reply