Download App

मकर संक्रान्ति पर्व 15 जनवरी को मनाया जायेगा : ज्योतिषी पंडित दिव्यांश दूबे (काशी)

14 जनवरी की रात्रि में धनु राशि से मकर राशि में सूर्य करेगा प्रवेश

खगड़िया, बिहार दूत न्यूज।

काशी के पंडित ज्योतिषी दिव्यांश दूबे के अनुसार संक्रांति का पर्व प्रति वर्ष जब सूर्य धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश करता है तो उस काल को मकर संक्रांति कहते हैं। सूर्य जिस राशि में प्रवेश करेगा वही संक्रांति होता है।

आगे उन्होंने कहा हेमाद्रि मतानुसार मकर संक्रांति 40 घड़ी का पुण्य काल होता है। इस वर्ष यह समय संक्रान्ति जन्य पुण्यकाल मध्यान्ह तक है। भक्तजन इस वर्ष स्नान एवं दान दोपहर तक कर सकते हैं। क्योंकि भविष्य पुराण के मतानुसार धनु राशि को त्याग कार मकर राशि में सूर्य प्रदोष या आधी रात में हो तो प्रातः काल से स्नान एवं दान करना चाहिए जो कि इस वर्ष सूर्य धनु राशि से 14 जनवरी 2023 को मकर राशि में रात्रि में प्रवेश होने के करण यह पर्व 15 जनवरी 2023 को (रविवार) मकर संक्रान्ति (खिचड़ी) का पर्व मनाया जायेगा।

Leave a Comment

[democracy id="1"]
Translate »