Download App

74 वां गणतंत्र दिवस : बिहार के लाल हीरो राजन कुमार दिल्ली में 26 जनवरी की ऐतिहासिक परेड की ज़ोर शोर से कर रहे हैं तैयारी

कृषि मंत्रालय की झांकी को लीड करेगें हीरो राजन कुमार इस वर्ष राजस्थान के किसान के लुक में आएंगे नज़र

Advertisement

 

बिहार दूत न्यूज, पटना।

कोरोना काल के बाद इस साल देश गणतंत्र दिवस को बड़े ही उत्साह और उल्लास के साथ मना रहा है। इस वर्ष 74वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर 26 जनवरी को होने वाले विशेष समारोह के लिए बड़े जोर शोर से तैयारियां जारी हैं। पिछले एक दशक से लगातार इस परेड का हिस्सा रहे हीरो राजन कुमार 26 जनवरी की परेड के रिहर्सल में लगे हुए हैं।इस वर्ष के खास मुख्य समारोह की परेड के लिए दिल्ली में राजन कुमार पूर्वाभ्यास कर रहे हैं।

बता दें कि देश की राजधानी दिल्ली में कर्तव्य पथ पर हर वर्ष आयोजित होने वाले गणतंत्र दिवस परेड का अपना एक अलग ही जलवा होता है, इसे देखने के लिए दिल्ली के साथ साथ पूरे देश से और यहां तक कि विदेश से भी लोग पहुंचते हैं।

ऐसे में गणतंत्र दिवस परेड के लिए राजन कुमार का रिहर्सल जारी है। जबरदस्त सर्दी और कोहरे के कारण भले ही दिल्ली में पारा नीचे है मगर राजन कुमार का जोश अपनी बुलंदी पर है। वह परेड की रिहर्सल में बढ़चढ़ कर भाग लेते हैं और दूसरे कलाकारों की हौसला अफजाई भी करते हैं। इसीलिए तो राजन कुमार को सिर्फ फिल्मी हीरो नहीं बल्कि रियल लाइफ में भी हीरो माना जाता है।

गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड होल्डर राजन कुमार पिछले साल गुजराती लुक में दिखाई दिये थे लेकिन इस बार वह राजस्थान के किसान के रूप में नजर आने वाले हैं। वह पिछले एक दशक से दिल्ली की परेड में नजर आ रहे हैं और उनका यह 10 वर्षो का अनुभव कमाल का रहा है।
राष्ट्रीय रंगशाला शिविर में चार्ली चैपलिन2 के रूप में विख्यात हीरो राजन कुमार का रहना और वहां 26 जनवरी की परेड के लिए रिहर्सल करना एक सम्मान और गर्व की बात है। यहां पूरे देश से चुनिंदा कलाकारो को बुलाया जाता है और इसमे लगातार दस वर्षों से राजन कुमार की उपस्थिति अपने आप मे एक कारनामा है। यह सम्मान सिर्फ राजन कुमार के लिए ही नहीं है बल्कि यह सम्मान उस गांव उस जिला और उस राज्य के लिए भी है जहां से वह कलाकार सम्बंध रखता है। मुंगेर बिहार के लिए भी यह बेहद गौरव का लम्हा है कि राजन कुमार वहां लगातार एक डिकेड से परफॉर्म करते आ रहे हैं।

बेहद उत्साहित स्वर मे राजन कुमार कहते हैं कि यह भारत का 74वां गणतंत्र दिवस है और इस भव्य समारोह का हिस्सा होना ही अपने आप मे बड़ी बात है। इस परेड में रक्षा मंत्रालय के तमाम अधिकारी लगे रहते हैं, देश की प्रतिष्ठा इससे जुड़ी रहती है। इस परेड से जुड़े रहना हम जैसे कलाकार के लिए गौरव की बात है।”

फिलहाल राजन कुमार इस परेड के रिहर्सल में जोर शोर से लगे हुए हैं। उनके ऐक्ट को काफी पसन्द किया जा रहा है और इस बात को देखते हुए राजपथ अब कर्त्तव्य पथ पर उन्हें आर्टिस्ट के रूप में लीड करने की जिम्मेदारी दी गई है।

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?
Translate »
%d bloggers like this: