Download App

डीडीसी ने जिलास्तरीय कृषि टास्क फोर्स की बैठक में दिए कई निर्देश ..

बिहार दूत न्यूज, खगड़िया।

उप विकास आयुक्त संतोष कुमार की अध्यक्षता में साप्ताहिक जिलास्तरीय कृषि टास्क फोर्स की बैठक उनके कार्यालय प्रकोष्ठ में आयोजित की गई।


उप विकास आयुक्त ने फसल आच्छादन, फसल कटनी प्रयोगों के संपादन, उर्वरकों की उपलब्धता, राजकीय नलकूपों की अद्यतन स्थिति, प्रधानमंत्री कृषि सम्मान निधि योजना, किसान क्रेडिट कार्ड, पशुपालन में उपलब्धियों, धारों के पुनरुद्धार आदि के संबंध में महत्वपूर्ण निर्देश दिए।
बैठक में दो नए कृषि यंत्र बैंकों की स्थापना के संबंध में प्राप्त आवेदनों पर भी विचार विमर्श किया गया और उनके निष्पादन पर सहमति बनाई गई।
फसल आच्छादन के समीक्षा के क्रम में जिला कृषि पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि रबी मौसम में फसल आच्छादन की स्थिति अच्छी है और लक्ष्य के शत प्रतिशत से अधिक की प्राप्ति की जा चुकी है। इस वर्ष भी गेहूं एवं मक्का की फसल का उत्पादन अधिक रहेगा और किसानों से गत वर्ष से अधिक गेहूं की खरीद सरकार द्वारा की जा सकेगी।
रबी मौसम के फसल कटनी प्रयोगों के संबंध में जिला सांख्यिकी पदाधिकारी एवं जिला कृषि पदाधिकारी ने जानकारी दी कि अधिकांश प्रयोग कृषि विभाग के कर्मियों द्वारा किया जाता है अतः समय पर प्रयोग संपादित करते हुए इनका डाटा अपलोड कराया जाए। कृषि विभाग के पदाधिकारी भी फसल काटने प्रयोगों के संपादन पर नजर रखेंगे।
जिला कृषि पदाधिकारी ने बताया कि जिले में पर्याप्त मात्रा में उर्वरक की उपलब्धता है। यूरिया, डीएपी, एनपीके आदि उर्वरकों की उपलब्धता सभी प्रखंडों में है एवं किसानों को निर्धारित मूल्य पर उपलब्ध कराने हेतु विभागीय पदाधिकारियों एवं कर्मियों को निर्देशित किया गया है। उर्वरक की उपलब्धता की जानकारी प्रतिदिन साझा की जाती है।
राजकीय नलकूपों के समीक्षा के क्रम में लघु जल संसाधन विभाग के कनीय अभियंता को सभी नलकूपों को चालू करने का निर्देश दिया गया। कार्यपालक अभियंता, विद्युत को कृषि फीडर के तहत किसानों को नया कनेक्शन देने के संबंध में निर्देश दिया गया।
जिला पशुपालन पदाधिकारी के प्रतिनिधि से पशु चिकित्सा, टीकाकरण, ईयर टैगिंग, कृत्रिम गर्भाधान के संबंध में जानकारी लेते हुए उप विकास आयुक्त ने शत-प्रतिशत लक्ष्य की प्राप्ति के निर्देश दिए।
उप विकास आयुक्त ने पशुपालन एवं मत्स्य पालकों को किसान क्रेडिट कार्ड लोन के संबंध में विस्तृत विवरण उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। चौर विकास के तहत तालाब निर्माण कर मत्स्य पालन के संबंध में भी जिला मत्स्य पदाधिकारी को आवश्यक कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया।
कृषि टास्क फोर्स की बैठक में जिले में दो नए कृषि यंत्र बैंक को की स्थापना के संबंध में प्राप्त आवेदनों पर चर्चा करते हुए जिला कृषि पदाधिकारी ने बताया कि दो लक्ष्य की तुलना में 18 आवेदन प्राप्त हुए, जिनमें से 15 आवेदन विभिन्न कारणों से अस्वीकृत हुए क्योंकि संबंधित किसानों या समूहों ने एक या दो ही कृषि यंत्रों के क्रय में दिलचस्पी दिखाई थी। जिला कृषि पदाधिकारी ने बताया कि कृषि यंत्र बैंकों के लिए भारत सरकार द्वारा 40% अनुदान दिया जाता है। सही पाए गए 3 आवेदनों में से उप विकास आयुक्त ने पहले आओ पहले पाओ के आधार पर आवेदन को स्वीकृत करने का निर्देश दिया।
उप विकास आयुक्त ने कार्यपालक अभियंता, लघु जल संसाधन विभाग को अलौली में 5 एकड़ से अधिक रकबा वाले धारों के पुनरुद्धार के संबंध में प्रस्ताव तैयार करने के लिए सर्वेक्षण करने का निर्देश दिया और कहा कि जिले में इस क्षेत्र में अपार संभावनाएं हैं।
उप विकास आयुक्त ने गंगा ग्राम की बैठकों को गति देने का निर्देश देते हुए कहा कि इनमें अधिक से अधिक लोगों की भागीदारी सुनिश्चित कराते हुए जन जागरूकता का कार्य किया जाए।
इस समीक्षात्मक बैठक में जिला कृषि पदाधिकारी शैलेश कुमार, जिला सांख्यिकी पदाधिकारी आनंद प्रकाश, सहायक निदेशक अभियांत्रिकी रजनीश कुमार सहित अन्य संबंधित विभागों के पदाधिकारी शामिल हुए।

Leave a Comment

[democracy id="1"]
Translate »