Download App

जनसंख्या वृद्धि रोकने को लेकर अस्थायी साधनों का प्रयोग जरूरी: अपर निदेशक

पूर्णिया, बिहार दूत न्यूज।

परिवार नियोजन कार्यक्रम के तहत प्रमंडल स्तरीय समीक्षात्मक बैठक सह संबंधित कार्यक्रमों में बेहतर योगदान देने वाले अधिकारी एवं कर्मियों को शहर के निजी होटल में सम्मानित किया गया।

इस अवसर पर क्षेत्रीय अपर निदेशक डॉ विजय कुमार, क्षेत्रीय कार्यक्रम प्रबंधक कैशर इक़बाल, क्षेत्रीय आशा समन्वयक प्रियंका कुमारी, क्षेत्रीय अनुश्रवण एवं मूल्यांकन पदाधिकारी सपना कुमारी, एसीएमओ सह डीएमओ डॉ आरपी मंडल, कटिहार के डीसीएम अश्विनी मिश्रा एवं डीडीए सुरेश रजक, अररिया के डीसीएम सौरभ कुमार एवं डीडीए रमन कुमार, किशनगंज के डीसीएम प्रशांत कुमार एवं डीडीए सुमन कुमार, पूर्णिया के डीसीएम संजय कुमार दिनकर, बॉयोमेडिकल इंजीनियर विभूति रंजन, लेखापाल सौरभ कुमार हमदम, सीफार के डीपीसी धर्मेंद्र कुमार रस्तोगी,
आरपीएमयू के श्याम कुमार एवं शाहनवाज सहित पुरस्कृत होने वाले चिकित्सा पदाधिकारी एवं स्टाफ़ नर्स, एएनएम के अलावा आशा कार्यकर्ता शामिल थी।

 

जनसंख्या वृद्धि रोकने को लेकर अस्थायी साधनों का प्रयोग जरूरी: अपर निदेशक
क्षेत्रीय अपर निदेशक डॉ विजय कुमार ने बताया कि स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय भारत सरकार द्वारा कुल प्रजनन दर प्रति महिला बच्चों की कुल संख्या में कमी, आधुनिक गर्भनिरोधों के उपयोग को बढ़ाने, गर्भनिरोधक साधनों की सामुदायिक स्तर पर पहुंच सुनिश्चित करने एवं परिवार नियोजन के प्रति जन-जागरूकता को बढ़ाने के उद्देश्य से कुल प्रजनन दर की सूची में शामिल बिहार में मिशन परिवार विकास की शुरुआत की गयी है। जिसके माध्यम से जनसंख्या वृद्धि रोकने को लेकर विभिन्न प्रकार के अस्थायी तौर पर संसाधनों का प्रयोग कर काफ़ी हद तक रोका जा सकता है। पूर्णिया प्रमंडल के सभी जिलों में परिवार नियोजन से संबंधित विभिन्न तरह के आयामों को धरातल पर उतारने में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी एवं कर्मियों की भूमिका काफ़ी महत्वपूर्ण मानी जाती है।

 

प्रमंडल में सबसे अधिक बायसी के एमओआईसी ने किया महिलाओं का बंध्याकरण: आरपीएम
क्षेत्रीय कार्यक्रम प्रबंधक कैशर इक़बाल ने बताया कि पूर्णिया प्रमंडल के सभी जिलों यथा- अररिया, कटिहार ,किशनगंज एवं पूर्णिया में परिवार नियोजन कार्यक्रम के तहत उत्कृष्ट कार्य करने वाले विभिन्न स्वास्थ्य संस्थानों के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी, चिकित्सा पदाधिकारी, स्टाफ़ नर्स, एएनएम एवं आशा कार्यकर्ताओं को क्षेत्रीय अपर निदेशक डॉ विजय कुमार के द्वारा प्रशस्ति पत्र एवं मेडल पहनाकर सम्मानित किया गया है। जिसमें मुख्य रूप से बायसी सीएचसी के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ विजय कुमार ने 1896 महिलाओं का सफलतापूर्वक बंध्याकरण किया है। जिस कारण उन्हें प्रथम स्थान से सम्मानित किया गया है। वहीं दूसरे स्थान पर अररिया सदर अस्पताल के चिकित्सा पदाधिकारी डॉ संजय कुमार ने 1724 महिलाओं का बंध्याकरण किया है। जिन्हें दूसरे स्थान पर सम्मानित किया गया है। इसी तरह तृतीय स्थान पर फारबिसगंज एसडीएच की चिकित्सा पदाधिकारी डॉ रेशमा रज़ा ने 1655, चौथे स्थान पर अररिया सदर अस्पताल के चिकित्सा पदाधिकारी डॉ जितेंद्र प्रसाद ने 1544 जबकिं पांचवे स्थान पर कटिहार के बरारी पीएचसी के चिकित्सक डॉ मुसर्रफ हुसैन ने 1054 महिलाओं का बंध्याकरण किया है। इसके अलावा इन सभी जिलों के चिकित्सा पदाधिकारी, स्टाफ़ नर्स, एएनएम के साथ आशा कार्यकर्ताओं को भी प्रशस्ति पत्र एवं मेडल पहनाकर सम्मानित किया गया है।

Leave a Comment

[democracy id="1"]
Translate »