Download App

जयंती पर याद किए गए भारत रत्न बाबा साहब डॉ. भीमराव अंबेडकर..

संजय भारती , समस्तीपुर।

समस्तीपुर : भारत रत्न बाबा साहब डॉ भीमराव अंबेडकर जी की 132वीं जयंती दिवस सरकारी एवं गैरसरकारी संस्थानों में हर्षोल्लास के साथ समारोह पूर्वक मनाया गया । समस्तीपुर जिला के हसनपुर प्रखंड के न्यू इंडिया सुगर मिल्स उच्च विद्यालय के सभागार में हसनपुर प्रखंड विकास पदाधिकारी जयकिशन , वरिष्ठ नेता रामनारायण मंडल उर्फ बच्ची मंडल , शिक्षक कामेश्वर पासवान आदि ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर संविधान निर्माता बाबा साहेब अंबेडकर जी का जयंती मनाया । जहां वक्ताओं ने बाबा साहब डॉक्टर भीमराव अंबेडकर जी के जीवनी पर प्रकाश डालते हुए कहा कि बाबा साहेब सम्पूर्ण जीवन दर्शन के नायक थे , बाबा साहब सर्वधर्म समभाव को मानने वाले व्यक्ति थे । जिनका मानना था कि देश के कमजोर और वंचित लोग समाज के एक पंक्ति में साथ खड़ा रहे । बाबा साहब ने संविधान में बताया है कि हम भारतीयों को धर्म और जातिगत उन्माद की आड़ से बाहर निकल कर देश की विकास में ध्यान देना है । बाबा साहब का कहना था कि हम भारतीयों को लोकतंत्र और संविधान को ना कमजोर होने देना है और ना ही इस पर हमला करने वाले को बर्दाश्त करना है । बाबा साहब का कहना था कि देश की हर एक व्यक्ति शिक्षित बनो , शिक्षा हमारा जन्मसिद्ध अधिकार है । मौके पर वक्ताओं ने कहा कि देश में जब – जब असमानता , वैमनस्यता बढ़ा है तब – तब किसी न किसी महापुरुषों का जन्म हुआ है उसी के महानायक थे बाबा साहेब डॉ भीमराव अंबेडकर । समारोह सभा में हसनपुर प्रखंड क्षेत्र के विभिन्न पंचायतों के लोगों ने सिरकत किए ।

Leave a Comment

[democracy id="1"]
Translate »