Download App

बेटियों के इज्जत आबरू पर हाथ डालने वाले भाजपा सांसद को मोदी सरकार का संरक्षण मिल रहा है संरक्षण : बबलू कुमार मंडल

खगड़िया, बिहार दूत न्यूज।

केन्द्र में बैठी भाजपा सत्ता के अहंकार में इस कदर चूर हैं कि सही- गलत का फर्क तक भूल चुकी है।उसके नैतिक दिवालियापन की ये पराकाष्ठा ही है कि देश की बेटियों के इज्जत आबरू पर हाथ डालने वाले भाजपा सांसद को मोदी सरकार का संरक्षण मिल रहा हैऔर न्याय के लिए राजधानी दिल्ली की सड़कों पर धरना दे रही बेटियों को सत्ता के रसूख से रौंदा जा रहै है।इससे संबंधित जिस तरह की तस्वीरें बीते दिनों दिल्ली से निकलकर आयी है उससे हर भारतीय का मन विचलित और व्यथित हैं।इन बेटियों के आबरू से खिलवाड़ करने वाली केंद्रीय भाजपायी सरकार को 2024 के लोकसभा चुनाव में देश की जनता सबक सिखायेगी।उक्त बातें मुख्यालय स्थित जदयू कार्यालय में सोमवार को पार्टी के उपाध्यक्ष पंकज कुमार पटेल,जदयू प्रवक्ता आचार्य राकेश पासवान शास्त्री,अजय मंडल,उपाध्यक्ष उमेश सिंह पटेल,लोहा सिंह,मानसी प्रखण्ड अध्यक्ष राजनीति प्रसाद सिंह,अलौली अध्यक्ष अमरेन्द्र सिंह एवं महासचिव अंगद कुमार आदि प्रमुख साथियों की उपस्थिति में प्रेसवार्ता के दौरान जदयू के जिला अध्यक्ष बबलू कुमार मंडल ने नरेंद्र मोदी सरकार की रबैये पर जम कर हमला बोलते हुए कही।
जिला अध्यक्ष ने केंद्र सरकार के प्रति नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि विदेशी धरती पर हमारे तिरंगे को सम्मान दिलाने वाली पहलवान बेटियां आज अपने देश में हीं अपमानित हो रही हैं।भारत के इतिहास में यह पहली मर्तबा है कि न्याय की गुहार लगा रही बेटियों पर लाठीचार्ज किया जा रहा है और यौन उत्पीड़न में आरोपी व्यक्ति पुलिस अभिरक्षा में जनसभाओं को संबोधित कर रहा है।इस घटना ने देश की राजनीति को शर्मसार किया है।इस अमानवीय घटना से जनप्रतिनिधियों के प्रति आमलोगों के अंदर विश्वास का भाव कम होने लगा है।
देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को आड़े हाथों लेते हुए श्री मंडल ने कहा कि ‘बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ ‘ का नारा देने वाले प्रधानमंत्री आज “सांसद बचाओ सत्ता बचाओ” के रास्ते पर चल रहे हैं।उनके इस रवैये से अब सिद्ध हो चुका है कि सत्ता ही उनकी सर्वोच्च प्राथमिकता है।देश और देश की नागरिक की चिंता उन्हें नही है।उन्होंने आगे कहा कि देश की पहलवान बेटियों को अगर उचित न्याय नहीं मिलता है तो देश की शासन व्यवस्था और न्यायिक प्रणाली पर ये बदनुमा धब्बा होगा।न्याय में देरी भी एक किस्म का अन्याय है।अगर प्रधानमंत्री जी के हृदय में थोड़ी सी भी संवेदना और देश की महिलाओं के प्रति सम्मान है तो बिना विलंब किए अपने चहेते सांसद को बर्खास्त कर निष्पक्ष जांच का आदेश दें।
वहीं बतौर जिलाध्यक्ष ने निर्माणाधीन अगुवानी-सुल्तानगंज गंगा पुल के कुछ हिस्से गिड़ने पर बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सम्राट चौधरी द्वारा सरकार को भ्रष्टाचार में लिप्त रहने के आरोप का खण्डन करते हुए कहा कि उक्त पुल के शिलान्यास में मनहूस सम्राट चौधरी को परवत्ता के धरती पर आना अशुभ साबित हो रहा है।पथ व पुल विभाग के मंत्री बीजेपी के ही लोग थे,जिनका कार्यकाल जांच का विषय है।इसमें जो भी दोषी पाये जाएंगे उस पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए।
इस अवसर पर छात्र जदयू के जिला अध्यक्ष सिद्धांत कुमार छोटू सिंह,पप्पू कुमार सिंह,प्रवीण कुमार,देव कुमार सिंह एवं राजीव ठाकुर इत्यादि उपस्थित थे।

Leave a Comment

[democracy id="1"]
Translate »