Download App

चाइल्ड लेबर ट्रैकिंग सिस्टम में बेहतरीन कार्य के लिए बिहार को रजत मेडल मिला : सुरेंद्र राम

बिहार में आईटी सेक्टर में मजबूती से कार्य किया जा रहा है : मो इसराईल मंसूरी

Advertisement

पटना, बिहार दूत न्यूज।

बिहार प्रदेश राष्ट्रीय जनता दल के राज्य कार्यालय में उपमुख्यमंत्री श्री तेजस्वी प्रसाद यादव के विचारोंनुरूप “सुनवाई ” कार्यक्रम में श्रम संसाधन मंत्री श्री सुरेंद्र राम तथा सूचना एवं प्रौद्योगिकी मंत्री मो इसराईल मंसूरी ने सुनवाई करते हुए प्राप्त प्रतिवेदन के आलोक में संबंधित विभाग एवं विभिन्न जिला के पदाधिकारियों को कार्रवाई हेतु आवश्यक दिशा-निर्देश दिया।
इस अवसर पर श्रम संसाधन मंत्री श्री सुरेंद्र राम ने कहा कि महागठबंधन सरकार पूरे राज्य भर में बी ओ सी डब्ल्यू स्तर पर विशेष अभियान और कैंप लगाकर रजिस्ट्रेशन करवाया जा रहा है।
श्री सुरेन्द्र राम ने आगे कहा कि नियोजन मेला और नियोजन कैंप के माध्यम से सूची के अनुसार नौजवानों को विभिन्न कंपनियों मे नियोजित किया किया जायेगा ।
इन्होंने कहा कि बिहार में चाइल्ड लेबर ट्रैकिंग सिस्टम में बहुत ही बेहतर ढंग से काम हो रहा है ,इसी बेहतरीन कार्य के लिए पूरे भारतवर्ष में बेहतर प्रदर्शन के आधार पर श्रम विभाग को रजत मेडल दिया गया है। बिहार में सरकार जमीनी स्तर पर योजनाओं को उतार रही है और इस पर लगातार कार्य किया जा रहा है ।
इन्होंने आगे कहा कि बिहार में माननीय मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री श्री तेजस्वी प्रसाद यादव के नेतृत्व में महागठबंधन सरकार श्रमिकों के आर्थिक और समाजिक उत्थान के प्रति पूरी सक्रियता के साथ कार्य कर रही है।
सूचना एवं प्रौद्योगिकी मंत्री मो इसराईल मंसूरी ने कहा कि आईटी के क्षेत्र में महागठबंधन सरकार बेहतर ढंग से कार्य कर रही है और इसके लिए आईटी सेक्टर को मजबूत बनाने के अभियान में आईटी पार्क, आईटी पोर्टल, आईटी हब, आईटी टावर लगाये जाने के प्रति महागठबंधन सरकार संकल्पित है और इस दिशा में मजबूती से कार्य चल रहा है। आईटी सेक्टर में मजबूती के लिए मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार तथा उपमुख्यमंत्री श्री तेजस्वी प्रसाद यादव विशेष तौर पर ध्यान दे रहे हैं और सरकार मजबूती से सूचना प्रौद्योगिकी क्षेत्र में कार्य कर रही है।
प्रदेश प्रवक्ता एजाज अहमद ने बताया कि लोगों ने अपनी समस्याओं से संबंधित प्रतिवेदन मंत्री जी के समक्ष रखा, जिसे सुनकर कार्रवाई की गई। और आवश्यक दिशा-निर्देश संबंधित विभाग और जिला केअधिकारियों को दिये।
इस अवसर पर प्रदेश प्रधान महासचिव रणविजय साहू, प्रदेश प्रवक्ता एजाज अहमद, महासचिव डॉक्टर प्रेम कुमार गुप्ता एवं निर्भय कुमार अम्बेदकर भी सुनवाई कार्यक्रम में उपस्थित थे ।

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?
  • Add your answer
Translate »
%d bloggers like this: