Download App

जाति आधारित गणना कराने के फैसले पर जदयू ने न्यायालय के प्रति जताया आभार

खगड़िया, बिहार दूत न्यूज।

माननीय पटना उच्च न्यायालय के द्वारा बिहार में फिर से जाति आधारित गणना कराने का मंगलवार को दिये गये फैसला को जदयू की पूर्व विधायक पूनम देवी यादव, जदयू के जिला अध्यक्ष बबलू कुमार मंडल तथा जदयू के जिला प्रवक्ता आचार्य राकेश पासवान शास्त्री ने हर्ष जाहिर करते हुए नीतीश सरकार की जीत बताया।
पूर्व विधायक पूनम देवी यादव सहित जदयू नेताओं ने कहा कि केंद्रीय बीजेपी सरकार राज्य में हो रहे जातीय आधारित गणना का खुलेआम विरोध करती रही है और कोरोना का बहाना बनाकर साल 2021 में होंने वाली गणना को भी नहीं होंने दिया।जब यशस्वी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी के नेतृत्व वाली सरकार गणना कार्य शुरू करायी तो मामला माननीय पटना उच्च न्यायालय तक चला गया और गणना कार्य आधा अधूरा पर ही रूक गया था।अब न्यायालय के फैसला आ गया है, जातीय आधारित गणना होगा और जिन जाति की जनसंख्या जितनी होगी हर क्षेत्र में उन्हें अधिकार उतनी मिलेगी।

Leave a Comment

[democracy id="1"]
Translate »