Download App

प्रमंडल के 10 यूपीएचसी में शुरू हुआ पीएमएसएमए कार्यक्रम: अपर निदेशक

बिहार दूत न्यूज, पूर्णिया।

Advertisement

गर्भवती महिलाओं के लिए चिकित्सक द्वारा गर्भावस्था के दौरान जांच कराना अतिआवश्यक होता है। जिसके लिए प्रत्येक महीने 9 और 21 तारीख को जिला मुख्यालय स्थित शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के अलावा जिले के सभी स्वास्थ्य संस्थानों पर प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान के तहत सभी तरह की जांच की व्यवस्था निःशुल्क है। प्रसव पूर्व जांच (एएनसी) जिले के सभी सरकारी स्वास्थ्य संस्थाओं पर चिकित्सकों द्वारा की जाती है। ताकि उच्च जोखिम वाली गर्भवती महिलाओं की पहचान कर उचित उपचार किया जा सके। जिले के सभी स्वास्थ्य संस्थानों में प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान का संचालन सफ़लता पूर्वक होते आ रहा है। उक्त बातें जिलाधिकारी कुंदन कुमार ने पूर्णिया कोर्ट स्थित शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान का शुभारंभ करने के दौरान कही।

 

शहरी क्षेत्रों के यूपीएचसी में प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान का जिलाधिकारी, नगर आयुक्त और सिविल सर्जन के द्वारा किया गया। वहीँ जिले के सभी प्रखंडों में 9 से 14 अक्टूबर तक संचालित होने वाले मिशन इंद्रधनुष अभियान 5.0 के दूसरे चरण का शुभारंभ जिलाधिकारी और नगर निगम के आयुक्त के द्वारा संयुक्त रूप से नवजात शिशुओं को दवा पिलाकर किया गया। दूसरी तरफ शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र माता चौक में क्षेत्रीय स्वास्थ्य अपर निदेशक डॉ विजय कुमार और फेडरेशन ऑफ ऑब्स्टेट्रिक एंड गायनेकोलॉजिकल सोसाइटीज ऑफ इंडिया (फॉगसी) की जिलाध्यक्ष डॉ विभा झा के संयुक्त रूप से शुभारंभ किया गया।

 

इस अवसर पर जिलाधिकारी कुंदन कुमार, सिविल सर्जन डॉ अभय प्रकाश चौधरी के आलावा डीपीएम सोरेंद्र कुमार दास, वार्ड पार्षद अमित कुमार सोनी, डीपीसी सुधांशु शेखर, एपिडेमियोलॉजिस्ट नीरज कुमार निराला, यूपीएससी के शहरी सलाहकार मोहम्मद दिलनवाज, स्थानीय एमओआईसी डॉ प्रतिभा कुमारी, बीएचएम विभव कुमार, यूनिसेफ के शिवशेखर आनंद, एसएमसी मुकेश कुमार गुप्ता, डब्ल्यूएचओ एसएमओ डॉ अनिसुर्र रहमान, डब्ल्यूजेसीएफ के राहुल सोनकर, सिफार के धर्मेंद्र रस्तोगी, रवीश भारती सहित कई अन्य अधिकारी और कर्मी उपस्थित थे।

 

प्रमंडल के 10 यूपीएचसी में शुरू हुआ पीएमएसएमए कार्यक्रम: अपर निदेशक
क्षेत्रीय अपर स्वास्थ्य निदेशक डॉ विजय कुमार ने बताया कि आज से राज्य के 22 जिलों में संचालित 106 यूपीएचसी पर प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान (पीएमएसएमए) कार्यक्रम का प्रारंभ होने से शहरी क्षेत्रों की गर्भवती महिलाओं को प्रसव पूर्व जांच (एएनसी) आसानी से कराई जा सकती है। जिसमें पूर्णिया प्रमंडल के पूर्णिया जिला मुख्यालय स्थित 6 जबकि कटिहार के 4 यूपीएचसी में इसका शुभारंभ किया गया है। बता दें कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा राज्य में ग्रामीण क्षेत्रों के स्वास्थ्य संस्थानों में प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान कार्यक्रम सफलतापूर्वक संचालित किया जाता है।

शहरी क्षेत्र के सभी यूपीएचसी में निजी चिकित्सकों द्वारा दी गई स्वैच्छिक सेवाएं: सिविल सर्जन
सिविल सर्जन डॉ अभय प्रकाश चौधरी ने बताया कि आज से स्वास्थ्य विभाग द्वारा शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर इसका संचालन शुरू किया गया है। जिसका उद्घाटन जिलाधिकारी कुंदन कुमार और नगर निगम के आयुक्त आरिफ अहसान के द्वारा संयुक्त रूप से किया गया है। पूर्णिया कोर्ट यूपीएचसी में फेडरेशन ऑफ ऑब्स्टेट्रिक एंड गायनेकोलॉजिकल सोसाइटीज ऑफ इंडिया (फॉगसी) की सचिव डॉ सिपिका और डॉ अंजू करण, गुलाबबाग में डॉ शिवानी सिंह, पूर्णिया सिटी में डॉ दिव्यांजलि सिंह, मधुबनी में डॉ अनुराधा सिन्हा जबकि माधोपारा में डॉ रानी मिहनाज सिद्धिकी के द्वारा प्रसव पूर्व जांच सहित गर्भावस्था के दौरान बरती जाने वाली सावधानियों और पौष्टिक आहार के लिए परामर्श दिया गया।

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?
  • Add your answer
Translate »
%d bloggers like this: