Download App

लोकसभा चुनाव पूर्व भारतीय राजनीति में अजब प्रेम की गजब कहानी : डॉ आर के यादव..

संजय भारती, समस्तीपुर।

Advertisement

समस्तीपुर जिला के हसनपुर क्षेत्र के प्रसिद्ध होमियोपैथ चिकित्सक डॉ आर के यादव ने भारतीय राजनीति को लेकर कहा एक ओर जहाँ सरकार के द्वारा जनसंख्या नियंत्रण के लिये लोगों को प्रोत्साहित किया जाता है ।वही दूसरी ओर बहुसंख्यक समुदाय को अपने पाले में करने के लिए भारतीय लोकतंत्र के राजा डुगडुगी बजा रहे है ।उन्होंने कहा स्वतंत्रता संग्राम से लेकर भू दान आन्दोलन में अपना  सब कुछ दांव पर लगाने वाले लोग दाने-दाने को मोहताज हैं जबकि चाटूकारिता के बल पर कुछ लोग राजनीति में मलाई मार रहे है । डॉ आर के यादव ने बताया कि स्वतंत्र भारत में हर वर्ग को स्वतंत्रता क्यों नहीं ? समय , काल और परिस्थिति के अनुसार नियम क्यों बदल दिये जाते हैं । भारतीय लोकतंत्र में मुख्यमंत्री बनने के लिये बाबा साहेब भींम राव अम्बेडकर ने पहले ही नियम बना दिया है कि ज्यादा मत पाने बाले नेता होंगे । फिर यह जाति गणना और पिछड़ा प्रेम दिखाकर क्या दर्शाना चाहते नेता लोग ? क्यों समाज में जाति एवं धर्म के नाम पर राजनीति कर विद्वेष फैलाने का प्रयास हो रहा हैं? आम मतदाताओं को यह समझना होगा कि लोकसभा चुनाव पूर्व बिन बादल वर्षात क्यों हो रहा है?  क्या सत्ता के लिये बहुसंख्यक और राष्ट्र निर्माण के लिये अल्पसंख्यक ? यही दोमुहाँ राजनीत होगी और समाज में भारतीय लोकतंत्र की अजब प्रेम की गजब कहानी के सहारे  नेता अपना गोटि कब तक लाल करते रहेंगे ये जनता को समझना चाहिए ।

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?
  • Add your answer
Translate »
%d bloggers like this: