Download App

राष्ट्रीय एकता और अखंडता को अक्षुण्य रखना जरूरी : रणवीर नंदन

पटना, बिहार दूत न्यूज।

राष्ट्रीय युवा योजना के बैनर तले डॉ एस एन सुव्वा राव उर्फ भाईजी के द्वितीय पुण्यतिथि के अवसर पर राष्ट्रीय शांति सद्भावना युवा शिविर का आयोजन कमला नेहरू शिशु विहार, उच्च विद्यालय पाटलिपुत्र के प्रांगण में किया गया ।

शिविर का उद्घाटन भाजपा के डॉ रणवीर नन्दन, ( पूर्व विधान पार्षद व विहार राज्य धार्मिक न्यास परिषद के सदस्य), ने दीप प्रज्वलित कर किया । अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि भारत दुनिया का सबसे युवा देश है । बिहार का गौरवशाली अतीत रहा है, नालंदा विश्वविद्यालय में चीनी यात्री फाह्यान ने शिक्षा ग्रहण कर यहाँ की सभ्यता को अपने देश मे चीन में स्थापित किया । भिन्नता में एकता भारत की पहचान है! हम सभी धर्मों का सम्मान करते हैं। उन्होंने देश भर से आये युवाओ से अपिल किया कि जात पात और धर्म के भावना से ऊपर उठकर राष्ट्र के निर्माण में योगदान करें । उन्होंने डॉ एस एन सुव्वा राव उर्फ भाईजी के जीवनी पर प्रकाश डालते हुये कहा कि दुनिया के लिए शांति मसीहा युवाओँ के आशा के प्रतीक भाईजी ने हजारों शिविर का आयोजन कर शांति दूत का निर्माण किया है । वहीं एसडीपीओ सत्येंद्र शाही ने कहा कि पूरे भारत का दर्शन एक छत के नीचे हो रहा है युवाओँ के असीम साहस और ऊर्जा को शांति के लिए लगाये । विनोद सिंह ने कहा कि हमें पश्चिमी सभ्यता को अपनाने से बचने की जरूरत है । औक्सीज़न मैन गौरब राय ने कहा कि आप जिस स्तर पर है सहयोग की भावना रखें । अशोक भारत ने सभी सायकिल यात्रियों से परिचय कराया । 2 अक्टूबर से 1500 किलोमीटर की यात्रा कर पटना पहुँचे । कार्यक्रम का संचालन प्रेम यूथ फाउंडेशन के संस्थापक गांधीवादी प्रेम जी ने किया । स्वागत भाषण सुनील सेवक ने किया । शिविर को संबोधित करने बालों में डॉ रणसिंह परमार, के सुकुमारन, मधु भाई, नरेंद्र भाई, धर्मेंद्र भाई,मणिपुर सरकार के पूर्व मंत्री जीवन सिंह , सीए संजय कुमार झा, पत्रकार रणजीत कुमार, आलोक कुमार, मुकेश चन्द्र झा, प्रभात कुमार, नीरज कुमार , अवधेश यादव, प्रेरणा विजय, पुष्पांजलि, रोहित,दीपक,विकाश, सुवीर, शामिल है । शिविर में बीस राज्यों के दो सौ शांति दूत शामिल रहें ।

Leave a Comment

[democracy id="1"]
Translate »