Download App

जयंती पर याद किए गए भारत की प्रथम महिला शिक्षिका एवं समाज सुधारक सावित्री बाई फुले

पटना, बिहार दूत न्यूज।
आज राष्ट्रीय जनता दल के राज्य कार्यालय में भारत की प्रथम महिला शिक्षिका एवं समाज सुधारक सावित्री बाई फुले की जयन्ती पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष श्री वृषिण पटेल की अध्यक्षता में मनायी गयी। इस अवसर पर सावित्री बाई फुले के तैलचित्र पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि अर्पित की गई।


इस अवसर पर वक्ताओं ने कहा कि सावित्री बाई फुले भारत की प्रथम महिला शिक्षिका, समाज सुधारक तथा मराठी कवयित्री थी एवं भारत के पहले बालिका विद्यालय की पहली प्राचार्य और पहले किसान स्कूल की संस्थापक थीं। वे अपने पति ज्योतिराव फुले के साथ मिलकर स्त्री अधिकारों एवं शिक्षा के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य किया। वे 1852 ई0 में बालिकाओं के लिए पहला विद्यालय की स्थापना की। वे जब स्कूल पढ़ाने जाती थी तो विरोधी इन्हें पत्थर मारते थे तथा इनके उपर गंदगी फंेकते थे। वे एक साड़ी अपने थैले मंे लेकर विद्यालय जाती थी तथा वहां साड़ी बदलकर बच्चों को पढ़ाती थी। वे किसी की परवाह किये बिना ही अपने पथ पर चलती रही। एक महिला प्रिंसिपल के लिये सन् 1848 में बालिका विद्यालय चलाना कितना मुश्किल रहा होगा, इसकी कल्पना नहीं की जा सकती। लड़कियों की शिक्षा पर उस समय सामाजिक पाबंदी थी। ये सामाजिक क्रांति की अग्रदूत थीं।
इस अवसर पर सावित्री बाई फुले के तैल चित्र पर माल्यार्पण करने वालों में राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्री उदय नारायण चैधरी, राष्ट्रीय महासचिव श्री श्याम रजक, श्री भोला यादव, पूर्व सांसद श्री विजय कृष्ण, प्रदेश उपाध्यक्ष डाॅ0 तनवीर हसन, मधु मंजरी, प्रदेश प्रवक्ता एजाज अहमद, मृत्युंजय तिवारी, प्रदेश महासचिव प्रमोद कुमार राम, मदन शर्मा, मुकुंद सिंह, निराला यादव, बल्ली यादव, भाई अरूण कुमार, संजय यादव, ई0 अशोक यादव, डाॅ0 पे्रम कुमार गुप्ता, संटू कुमार यादव, अरूण कुमार यादव, रीतू जायसवाल, नंदू यादव, खुर्शीद आलम सिद्दिकी, राजेश पाल, शाहिद जमाल, प्रमोद कुमार सिन्हा, विजय कुमार यादव, सरदार रंजीत सिंह, जेम्स कुमार यादव, चन्देश्वर प्रसाद सिंह, उपेन्द्र चन्द्रवंशी, शिवेन्द्र कुमार तांती, गणेश यादव, ओमप्रकाश चैटाला, मो0 अख्तर हुसैन, मो0 अलाउदीन, रागिनी देवी, आरती देवी, रजनी कुमारी, उपेन्द्र यादव, विनोद कुमार यादव, मनोज कान्त, पप्पू प्रसाद, अर्जुन प्रसाद, शंभू राय सहित बड़ी संख्या में कार्यकत्र्ताओं ने सावित्री बाई फुले के तैलचित्र पर माल्र्यापण कर श्रद्धांजलि अर्पित की।

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?
  • Add your answer
Translate »
%d bloggers like this: