Download App

वरिष्ठ पत्रकार संतोष सिंह ने सुशील कुमार मोदी के निधन को क्षति बताते हुए कहा मैंने अभिभावक खो दिया..

पटना : टाइम्स ऑफ स्वराज के वरिष्ठ पत्रकार संतोष सिंह ने कहा कि बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री व 1974 के जेपी आन्दोलन के संघर्षशील जुझारू एवं कर्मठ नेता आदरणीय श्री सुशील कुमार मोदी के आकस्मिक निधन से मैं व्यक्तिगत रूप से काफी व्यथित एवं मर्माहत हूँ । उन्होंने ईश्वर से प्रार्थना करते हुए कहा कि ऊपर वाले उनके आत्मा को शान्ति प्रदान कर अपने श्री चरणों में स्थान दें तथा परिजनों को दुख सहने की शक्ति प्रदान करें। पत्रकार संतोष सिंह ने बिहार के वरिष्ठ राजनेता सुशील कुमार मोदी को लेकर कहा कि मैं जब पत्रकारिता जगत को लेकर पटना पहली बार आया तो मैं अपने आप को असहज महसूस करता था, क्योंकि उस समय पटना में पत्रकारिता को लेकर मुझे किसी से कोई जान पहचान नहीं था। उस दौर में सबसे पहले मुझे आदरणीय अभिभावक पूर्व डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी जी का सानिध्य प्राप्त हुआ, और वे मेरे खबर पर बारीकी से बने रहते थे और मेरे द्वारा चलाए गए खबर को सदन में समय समय पर उठाते हुए बिहार विकास की बात पर अड़े रहते थे। उन्होंने कहा कि जहाँ तक मैं राजनीति जगत में सुशील कुमार मोदी जी को देखा है दिवंगत सुशील कुमार मोदी सत्ता में रहा हो या विपक्ष में रहा हो, बिहार विकास के लिए बारीकी से आवाज उठाने में कभी पीछे नहीं रहे। उन्होंने कहा कि सुशील कुमार मोदी जी का निधन बिहार के लिए अपूरणीय क्षति है । संतोष सिंह ने दिवंगत सुशील कुमार मोदी को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि बिहार सरकार के पूर्व उप मुख्यमंत्री सह राज्य सभा सांसद सुशील कुमार मोदी जी का बिहार राजनीति में अहम योगदान रहा है। उन्होंने बताया कि बिहार के प्रखर राजनेता सुशील कुमार मोदी समाज के सभी वर्गों के लोगों के कल्याण हेतु संघर्ष करते रहे और जीवन पर्यन्त अपने विचार धारा के प्रति वफादार रहें वे एक कुशल नेतृत्वकर्ता के साथ – साथ रचनात्मक विरोधी दल की भूमिका में रहे जो अन्य राजनैतिक दल सदैव याद रखेंगे।

Leave a Comment

[democracy id="1"]
Translate »