Download App

नालंदा : एक के बाद एक 11 लोगों की संदेहास्पद मौत , जहरीली शराब पीने की आशंका

बिहार दूत न्यूज, पटना।

एक ओर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बिहार में पूर्ण शराब बंदी कर बिहार भर में समाज सुधार यात्रा अभियान पर रहे हैं तो दूसरी ओर अवैध शराब तस्कर सरकार व प्रशासन को ठेंगा दिखाकर अवैध जहरीली शराब का होम डीलीवरी कर लोगों को मौत का सौगात भेंट करने से बाज नहीं आ रहे हैं । एक ओर पिछले साल जहरीली शराब का सेवन कर बिहार के कोने कोने मे दर्जनों लोग मौत के गोद में चले गए । तो वहीं इस वर्ष के शुरुआत महिने में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के गृहजिले नालंदा के सोहसराय थाना क्षेत्र के छोटी पहाड़ी में शनिवार को काला दिन साबित हुआ । जहाँ कथित रूप से एक के बाद एक एक करके 11 लोगों की जान जहरीली शराब पीने से मौत के गाल में समा जाने की बात बताई जा रही है । लगातार एक के बाद एक हुए 11 लोगों की मौतें को लेकर इलाके भर में अफरातफरी का माहौल बना रहा । लोगों के हुए मौतें को लेकर जिलाधिकारी शशांक शुभंकर ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद कुछ कहा जा सकता है कि लोगों की मौतें जहरीली शराब पीने से हुआ है कि या अन्य कारणों से हुआ है । वहीं मृतक के परिजनों का कहना है कि मौत के कारणों का उच्चस्तरीय जांच कर कार्रवाई होनी चाहिये कि मृतक शराब पी रखीं थी कि नहीं । अगर शराब पी रखी थी तो वे लोग कहाँ से शराब की खरीदारी की क्योंकि राज्य भर में नीतीश सरकार पूर्ण शराब बंदी किए हुए हैं बाबजूद शराब कहांँ से बिहार में उपलब्ध हो रहा है । इस पर गहन जांच बैठनी चाहिए । मौके पर पुलिस प्रशासन के आलाधिकारी मोहल्ले को कब्जे में लेकर आसपास के इलाके में सघन जांच कर रही है । इस मामले में पुलिस ने पांच लोगों को हिरासत में लेकर पुछताछ कर रही है । वहीं शनिवार को तलाशी के दौरान पुलिस ने 23 पेटी अंग्रेजी शराब भी बरामद किया है । हलांकि प्रशासन अब भी शराब पीने से मौत की पुष्टि नहीं कर रही है । लेकिन मृतक के परिजन शराब पीने से मौत होने का कारण बता रहे हैं । परन्तु अभी भी मौत को संदिग्ध ही माना जा रहा है जब तक पोस्टमार्टम रिपोर्ट नहीं आ जाता तब तक कुछ कहना मुनासिब नहीं है ।

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?
Translate »
%d bloggers like this: