Download App

समस्तीपुर : आइसा ने एनटीपीसी में धांधली के विरोध में 28 जनवरी को बिहार बंद का किया आह्वान

संजय भारती , समस्तीपुर

समस्तीपुर शहर में गणतंत्र दिवस के अवसर पर छात्र-छात्राओं ने आइसा-इनौस के बैनर तले ‘हम हैं इसके मालिक – हिंदुस्तान हमारा’, ‘हमारा देश-हमारी रेल-हमारा रोजगार-हमारा अधिकार’ तथा ‘हकमारी और दमन के खिलाफ मोदी-नीतीश जवाब दो’, नारे के साथ छात्र – युवाओं ने 125 फिट का तिरंगा झंडा अपने- अपने हाथों में लेकर शहर के पटेल गोलंबर से “तिरंगा मार्च” निकला जो समाहारण्यालय , बस स्टैंड,ओवरब्रिज होते हुए बाजार भ्रमण के बाद पुनः पटेल गोलंबर पर पहुंच कर मार्च सभा में तब्दील हो गया । सभा की अध्यक्षता आइसा जिला अध्यक्ष लोकेश राज ने किया तथा संचालन संजीव कुमार ने किया । वहीं आइसा नेताओं ने सभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि छात्र-युवा अधिकारों तथा गणतंत्र की रक्षा करते हुए आंदोलनरत छात्र-युवा अपने आक्रोश को मोदी-नीतीश सरकार के खिलाफ मोड़ दें तथा चरणबद्ध आंदोलन खड़ा करते हुए रेलवे बेचने व नौकरियां खत्म करने पर आमदा मोदी सरकार को पीछे हटने पर मजबूर कर दें । प्रत्येक साल 2 करोड़ रोजगार देने का वादा करने वाली मोदी सरकार और 19 लाख रोजगार देने का वादा करने वाली नीतीश सरकार छात्र-युवाओं के प्रति संवेदनहीन बनी हुई है । रोजगार के नए सृजन की बजाए उसमें लगातार हो रही कटौती ने आज छात्र-युवाओं की जिंदगी व भविष्य को पूरी तरह से अधर में लटका दिया है । आइसा नेताओ ने कहा कि इस आंदोलन का हर तरह से समर्थन करते हैं और सरकार से आग्रह करते हैं कि वह इन अभ्यर्थियों की मांगों पर अविलंब सकारात्मक सुनवाई करें । वहीं आइसा जिला सचिव सुनील कुमार ने कहा कि छात्रों के आंदोलन के दबाव में रेलवे बोर्ड ने जल्दबाजी में एनटीपीसी के परिणाम एवं ग्रुप डी के सीबीटी-1 परीक्षा को तत्काल स्थगित करने एवं जांच कमेटी बनाने का आश्वासन छात्रों को दिया है जो छात्र हित में सकारात्मक कदम नहीं है । आइसा मांग करती है कि एनटीपीसी के पुनः रिवाईज्ड रिजल्ट जारी करते हुए ग्रुप डी का नया सिलेबस को रद्द कर पुराने सिलेबस के अनुसार परीक्षा आयोजित कर नियुक्ति करने की घोषणा करें अन्यथा छात्र अपने हक अधिकार के लिए शांतिपूर्ण तरीके से आंदोलन जारी रखेंगे । 28 जनवरी को आइसा-इनौस ने एनटीपीसी में व्यापक धांधली एवं ग्रुप डी में नोटिफिकेशन के खिलाफ बिहार बंद का आयोजन किया है जिसे सफल बनाने के लिए यात्रियों से अपील किया । वहीं आइसा जिला प्रभारी सुरेंद्र प्रसाद सिंह ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि अपने कैरियर की चिंता में और सरकार के दमनकारी नीति के खिलाफ आज छात्र सड़क पर है जिसके साथ हम मजबूती से खड़े हैं! सरकार छात्रों पर दमन करना सरकार बंद करें । वहीं तिरंगा यात्रा में शामिल ऐपवा के जिला अध्यक्ष बंदना सिंह , आइसा के प्रीति कुमारी , मनीषा कुमारी , द्रख्शा जवी, दीपक यदुवंशी, सिमरन, मनीष राय, अभिषेक कुमार , अनिल कुमार, रवि रंजन कुमार , हगुड्डू कुमार , मंजय कुमार , प्रमित कुमार , धीरज कुमार , सोनू कुशवंशी , प्रेम कुमार , दिलीप कुमार , प्रमोद , अमन, राहूल , पिंटू , इम्तियाज , आदित्य कुमार , अंकित कुमार , मिथलेश कुमार , मो. सगीर इत्यादि तिरंगा यात्रा में शामिल थे ।

Advertisement

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?
Translate »
%d bloggers like this: