Download App

बीएसएनएल के कहलगांव एसडीओ को तिरंगा के अपमान का नोटिस करने वाले भागलपुर जीएम उल्टे फंसे

बिहारदूत न्यूज डेस्क, पटना।

बीएसएनएल भागलपुर में स्वतंत्रता दिवस पर झंडोत्तोलन में तिरंगे के अपमान का मामला तूल पकड़ लिया है. एक तरफ जहां एसडीओ(जेटीओ इंचार्ज) बीएसएनएल, कहलगांव को जीएम ने बाएं हाथ से तिरंगे को सैल्यूट देने का आरोप लगाकर नोटिस किया है तो दूसरी तरफ कर्मचारी यूनियन भी अब आर-पार की लड़ाई के मूड में आ गया है. बकौल कहलगांव बीएसएनएल एसडीओ उन्होंने नोटिस का जवाब दे दिया है। इधर, कर्मचारी यूनियन इस बात को मजबूती से उठा चुका है कि जीएम जैसे वरीय पदाधिकारी ने खुद ही तिरंगे का अपमान किया है.

जानकारी के अनुसार 15 अगस्त को कहलगांव एसडीओ(जेटीओ इंचार्ज) विनोद कुमार ने जब झंडोत्तोलन कर तिरंगे को सलामी दी तो उनके किसी कर्मी ने मोबाइल के सेल्फी मोड में खुद को लेते हुए एसडीओ का फोटो खींचा। उस फोटो को बीएसएनल की इंटरनल किसी ग्रुप पर शेयर किया गया। इस बाबत एसडीओ विनोद कुमार का कहना है कि जीएम साहब ने हमलोगों के लिए अनिवार्य किया है कि आपने झंडोत्तोलन किया है या नहीं इसकी तस्वीर व्हाट्सएप ग्रुप पर डालिए। जब फोटो डाला गया ग्रुप पर तो जीएम साहब का नोटिस आ गया कि आप बाएं हाथ से तिरंगे को सैल्यूट क्यों किए हैं यह तो राष्ट्रध्वज का अपमान है. जबकि मोबाइल के सेल्फी मोड में सभी जानते हैं कि उल्टी तस्वीर आती है।

दाहिने हाथ से तिरंगे को सलामी देते एसडीओ।
सेल्फी में कि गई एसडीओ की तस्वीर।

बीएसएनएल भागलपुर में स्वतंत्रता दिवस पर झंडोत्तोलन में तिरंगे के अपमान का मामला तूल पकड़ लिया है. एक तरफ जहां एसडीओ(जेटीओ इंचार्ज) बीएसएनएल, कहलगांव को जीएम ने बाएं हाथ से तिरंगे को सैल्यूट देने का आरोप लगाकर नोटिस किया है तो दूसरी तरफ कर्मचारी यूनियन भी अब आर-पार की लड़ाई के मूड में आ गया है. बकौल कहलगांव बीएसएनएल एसडीओ उन्होंने नोटिस का जवाब दे दिया है। इधर, कर्मचारी यूनियन इस बात को मजबूती से उठा चुका है कि जीएम जैसे वरीय पदाधिकारी ने खुद ही तिरंगे का अपमान किया है.

Facebook पेज पर विरोध जताते संगठन के कर्मी।

जेटीओ कहलगांव विनोद कुमार को भेजे गए नोटिस में जीएम महेश कुमार ने पूछा है कि तिरंगे के अपमान के बाबत क्यों नहीं आप पर बीएसएनएल सीडीए रूल-2006 के तहत अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाए.

मामले को लेकर बिहारदूत न्यूज़ से बातचीत में जीएम पहले तो इसे लेकर टालमटोल किए। उन्होंने कहा कि जब नोटिस का जवाब आएगा तब एक्शन के संबंध में निर्णय लिया जाएगा। जब उन्हें यह बताया गया कि आपके पास नोटिस का जवाब पहुंच चुका है तब उन्होंने कहा कि अभी देखे नहीं है देखने के बाद इस पर निर्णय लिया जाएगा।

कर्मचारियों ने लगाया जीएम पर तिरंगे के अपमान का आरोप

झंडोत्तोलन के बाद तिरंगे की बाई और संबोधित करते जीएम।

इधर नाम नहीं उजागर करने की शर्त पर बीएसएनएल के एक कर्मचारी ने बताया की जीएम महेश कुमार ने खुद ही झंडोत्तोलन के नियम धारा 3/10 का उल्लंघन कर राष्ट्रीय ध्वज का अपमान किया है. नियम के तहत संबोधन करने वाले के दाएं और तिरंगे को होना चाहिए कर्मचारी द्वारा उपलब्ध कराई गई सामने से ली गई तस्वीर में साफ दिख रहा है कि जीएम संबोधित कर रहे हैं और तिरंगा बाई ओर फहरा रहा है. कर्मचारियों ने इसकी शिकायत बीएसएनल के उच्चस्थ अधिकारियों से भी किए जाने की बात कही है.

इस विषय में पूछे जाने पर पहले तो जीएम महेश कुमार ने कहा कि अभी आपने यह सवाल पूछा है हम देखते हैं क्या मामला है. जब बिहारदूत न्यूज़डेस्क से यह बताया गया कि आपने झंडोत्तोलन किया और आपको ध्यान में नहीं है कि ध्वज से किस दिशा में डेस्क था तो झेंपते हुए उन्होंने कहा कि पहले पूरा मामला देखते हैं फिर बता पाएंगे. बाहरहाल बीते कुछ दिनों से जीएम से परेशान चल रहे बीएसएनल के कर्मचारियों ने अब आर या पार की लड़ाई ठान ली है. सोशल मीडिया फेसबुक पर बने C. Singh. General Secretary(NFTE) BSNL ग्रुप पर जीटीओ को किए गए नोटिस के साथ सेल्फी की ली गई तस्वीर भी शेयर करते हुए कर्मचारियों ने जीएम को खरी-खोटी सुनाई है.

Leave a Comment

[democracy id="1"]
Translate »