Download App

मुंगेर- खगड़िया रेल सह सड़क पुल का नाम दानवीर कर्ण सेतु रखा जाय..

आलोक राज, खगड़िया।

Advertisement

देश बचाओ अभियान के बैनर तले खगड़िया रेलवे स्टेशन परिसर में तिरंगा झंडा के नीचे खगड़िया मुंगेर रेल-सह-सड़क पुल का नाम दानवीर कर्ण सेतु रखने तथा जनहित में पूल को जल्द चालू करने के सवाल को लेकर धरना प्रदर्शन सभा किया गया, जिसकी अध्यक्षता व नेतृत्व अभियान के संस्थापक अध्यक्ष सह भाकपा माले के जिला संयोजक किरण देव यादव ने किया।
प्रदर्शन सभा को युवा शक्ति के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष नागेंद्र सिंह त्यागी, दलित युवा संग्राम मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष राकेश पासवान शास्त्री, स्वराज अभियान के अमरीश यादव, प्रगतिशील लेखक संघ के अध्यक्ष उपेंद्र कुमार, खेत मजदूर किसान सभा के जिला संयोजक धर्मेंद्र कुमार, असंगठित निर्माण मजदूर यूनियन के सचिव सुनील कुमार, काष्ठ कर्मी महासंघ के महासचिव अनुज शर्मा, शहीदे आजम भगत सिंह छात्र नौजवान सभा के जिला संयोजक आनंद राज, आजपा के जिला अध्यक्ष गुड्डू ठाकुर, अमलेश मौर्यवंशी, फरकिया मिशन के महासचिव दिनेश शाह , अरुण वर्मा आदि ने भाग लिया।
सामाजिक राजनीतिक नेताओं एवं उपस्थित सैकड़ों लोगों ने एक स्वर में प्रस्ताव पारित कर खगड़िया मुंगेर रेल सह सड़क पुल का नाम दानवीर कर्ण सेतु रखने की मांग महामहिम राष्ट्रपति प्रधानमंत्री मुख्यमंत्री से किया ।
नेताओं ने जनहित में उक्त रेल-सह-सड़क पुल को जल्द चालू करने, जल्द उद्घाटन करने, उद्घाटन करने के नाम पर रेल सड़क पुल को चालू करने की कार्य को लंबित नहीं रखने, डेढ़ वर्ष से बंद पड़े उत्तरी रेलवे जंक्शन को खोलने, सेम डेट पर सभी ट्रेन का टिकट काटने रिजर्वेशन करने, सभी एक्सप्रेस ट्रेन में जनरल बोगी लगाने, सहरसा से पटना तक डीएमयू ट्रेन चालू करने, पूर्वी केबिन ढाला से राजेंद्र चौक माल गोदाम स्टेशन रोड होते हुए पश्चिमी केबिन ढाला तक जर्जर रोड का निर्माण जल्द करने, खगड़िया से अलौली तक जल्द ट्रेन चालू करने तथा कुशेश्वर स्थान तक रेलवे कार्य युद्ध स्तर पर निर्माण करने आदि मांग सरकार से किया है।
नेताओं ने कहा कि कुछेक मीडिया श्री कृष्ण सेतु नाम को मीडिया में उछाल रहे हैं जबकि उक्त पुल निर्माण में उनकी कोई योगदान नहीं है। यदि कृष्ण सेतु नाम रखा जाएगा तो आंदोलन उग्र किया जाएगा जिसका जिम्मेदार सरकार व प्रशासन होगी। हालांकि उक्त पुल निर्माण में पूर्व सांसद ब्रह्मानंद मंडल रेल मंत्री रामविलास पासवान लालू यादव आदि की भूमिका अहम रहा है।
नेताओं ने कहा कि ऐतिहासिक अंग प्रदेश के राजा दानवीर कर्ण सेतु नाम रखने से आम जनता में खुशी की लहर दौड़गी।

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?
Translate »
%d bloggers like this: