Download App

बिहार का बजट पूरी तरह से घोषणाओं पर आधारित, पुराने कलेवर का नया प्रारूप है: RJD

पटना, बिहार दूत न्यूज।
बिहार प्रदेश राष्ट्रीय जनता दल के प्रवक्ता एजाज अहमद ने कहा कि बिहार बजट में सिर्फ़ घोषणाएँ हैं, और सिर्फ लोगों को भ्रम में रखने के लिए 06बातों की घोषणा की गई जबकि जो बाते पिछले बजट में भी थे, वही योजनाएँ, वही आवंटन,मतलब साफ है कि काम कुछ होता नहीं, हर वर्ष उसी तरह के बजट को पुनः दोहरा दिया जाता है।
इन्होंने ने आगे कहा कि बिहार सरकार ने बजट नहीं, जनता का मज़ाक उड़ाने वाला झूठ का पुलिंदा पेश किया है। बजट में शिक्षा की गुणवत्ता के लिए कोई घोषणा नहीं की गई और ना ही नए उद्योग के लिए बजट में प्रावधान किया गया है। शिक्षा, स्वास्थ्य और आधारभूत संरचना के लिए जिस प्रकार की घोषणाऐं की गई है वह सर जमीन पर कभी नहीं उतरता और बजट में जो योजना आकार बनाया गया है उसके अनुसार खर्च नहीं हो पाता है। जिस कारण बिहार हर क्षेत्रों में फिसड्डी साबित हुआ है जो भारत सरकार के नीति आयोग की रिपोर्ट से स्पष्ट होता है।
एजाज ने कहा कि मुख्यमंत्री का 7 निश्चय पार्ट 1 तो पूरा हो ही नहीं पाया है , और आधा होने के क्रम में ही भ्रष्टाचार, लीकेज और कमीशनखोरी का पर्याय बन गया है, जिसमें नल जल योजना तो अपने आप में भ्रष्टाचार की एक गाथा बन गया है। पर मुख्यमंत्री 7 निश्चय पार्ट 1 पूरा किए बिना 7 निश्चय पार्ट 2 की बात करके सबको भ्रमित किया गया है। इन्होंने बजट को पूरी तरह से पुराने आधार पर ही नया कलेवर चढा कर प्रस्तुत किया गया बजट बताया।

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?
Translate »
%d bloggers like this: