Download App

जहाँ न पहुंचे रेलगाड़ी वहाँ पहुंचे चाइल्ड लाइन की सवारी

संजय भारती , समस्तीपुर

Advertisement

जवाहर ज्योति बाल विकास केन्द्र समस्तीपुर और ईडेन वेलफेयर ट्रस्ट बलभद्रपुर दुधपुरा के संयुक्त तत्वावधान में व कैलाश सत्यार्थी चिल्ड्रेन्स फाउंडेशन नई दिल्ली के सौजन्य से बच्चों के खिलाफ हिंसा और दुर्व्यापार की रोकथाम के लिए सामुदायिक स्तर के ढांचे और प्रणाली को मजबूत करने के दौरान ईडेन पब्लिक स्कुल के बच्चों के साथ खेलकूद गतिविधि कराया गया।

11 मार्च 2022 को “बाल श्रम, बाल विवाह , बाल तस्करी, कोविड-19 के दौरान बच्चों और किशोरों की सुरक्षा” विषयक स्कुल स्तरीय खेलकूद संवर्धन कार्यशाला के दौरान जवाहर ज्योति बाल विकास केन्द्र के आनंदशाला कार्यक्रम की समन्वयक शीतल कुमारी ने खेल – खेल में ईडेन पब्लिक स्कुल के बच्चों को इन सामाजिक सांस्कृतिक बुराईयों से बचनें के लिए जागरुक किया । चाइल्ड लाईन समस्तीपुर सब सेंटर पटोरी के टीम मेम्बर बलराम चौरसिया ने वार्ड स्तरीय बाल संरक्षण समिति तथा चाइल्ड लाईन टॉल फ्री नम्बर 1098 के बारे में जानकारी दिया । मौके पर चाइल्ड लाईन समस्तीपुर सब सेंटर पटोरी के समन्वयक कौशल कुमार ने कहा कि “जहाँ न पहुँचे रेलगाड़ी वहाँ पहुँचे चाइल्ड लाइन की सवारी” मतलब चाइल्ड लाईन सेवा या उपयोग कर हम सभी जरुरतमंद बच्चों को सहयोग कर सकते हैं । कैलाश सत्यार्थी चिल्ड्रेन्स फाउंडेशन की सपोर्ट पर्सन दीप्ति कुमारी ने कहा कि बच्चों के साथ हिंसा मुक्त समाज बनाने के लिए परिवार और समाज के सभी निर्णयों में बाल भागीदारी बढ़ाने की आवश्यकता है । स्कूलों में बाल संसद और मीना मंच को मजबूत किया जाना चाहिए । ईडेन पब्लिक स्कुल के परिसर में आयोजित “बाल मन” कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए ईडेन वेलफेयर ट्रस्ट के चेयरमैन ब्रज किशोर कुमार ने कहा कि बच्चों को परिवार और स्कूल में सम्पूर्ण विकास के लिए वातावरण निर्माण करने की आवश्यकता है । स्कुल की शिक्षिका श्वेता सुमन ने बताया कि बच्चों को स्कुल में आनंदशाला या वातावरण मिले तो उनका मानसिक और शारीरिक विकास संभव हो पाएगा । जवाहर ज्योति बाल विकास केन्द्र के सचिव सह कैलाश सत्यार्थी चिल्ड्रेन्स फाउंडेशन नई दिल्ली के समस्तीपुर जिला समन्वयक सुरेन्द्र कुमार ने बताया कि ईडेन पब्लिक स्कुल के संस्थापक अध्यक्ष ब्रज किशोर कुमार स्कुल के स्थापना काल से ही बच्चों के सर्वांगीण विकास और उनके रचनात्मक गतिविधियों को अग्रेसित किया है । स्थानीय बस्तियों के वंचित परिवार और समाज के जरुरतमंद बच्चों के लिए हमेशा तत्पर रहे हैं। कुमार ने आगे बताया कि ईडेन पब्लिक स्कुल के सहयोग से प्रत्येक सप्ताह के शनिवार को इन बच्चों के साथ आनंदशाला का आयोजन किया जाएगा । सभी बच्चों , शिक्षकों सहित आनंदशाला टीम को विद्यालय के प्रबंध निदेशक अनिता देवी ने धन्यवाद व्यक्त किया।

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?
Translate »
%d bloggers like this: