Download App

30 वीं पुण्यतिथि पर याद किए गए पूर्व विधायक हेमन्त शाही

राकेश कुमार/वैशाली

वैशाली जिला भगवानपुर प्रखंड के गुदगुदी हाउस में पूर्व विधायक हेमन्त शाही के 30 वीं पुण्यतिथि राणा सुरेश कुमार प्रसाद सिंह(नेता जी) की अध्यक्षता मे मनाई गई।

इस अवसर पर जिला के सभी वर्गो के प्रबुद्ध लोगो ने उनके तैलचित्र पर पुष्प अर्पित कर सादर श्रद्धांजलि दिया। उनको याद करते हुए पूर्व मंत्री सुरेश शर्मा ने कहा कि हमने एक प्रखर नेता को खो दिया था। पूर्व विधायक विजय कुमार शुक्ला उर्फ मुन्ना शुक्ला ने कहा कि उनका सबसे अच्छा तरीका जो कंधे पर हाथ रख कर बात करने वाला जो था वह आज भी सराहनीय है। हमलोग उनका अनुसरण करते रहे। हमलोगों के नेता थे,हम लोगों के बल थे,सामाजिक रुप से नॉर्थ बिहार में ही नहीं पूरे बिहार में हमलोगों के अग्रज थे।आगे बढ़कर हम लोगों के लिए काम करते थे।हमलोगों के साथ सानिध्य ,व्यवहार ,विचार जो पूर्ण रूप से नेता होने का जो गुण था। अपने समाज को अपने लोगों को उनका ख्याल रखने का जो तौर तरीका था वो बहुत सराहनीय था। इसी तरह उनका पुण्यतिथि मानते रहे। इस दिन को याद करते रहे।यही मेरी कामना है। अखिल भारतीय स्तर के सभी बैंक ऑफिसर एसोसिएशन के प्रमुख सुनील कुमार सिंह ने कहा कि वो काफी लोकप्रिय थे,वो किसी जात के नहीं जमात के नेता थे और वह सभी को मदद करते थे।उनके जो संपर्क में गए उनको मदद करते थे और इसलिए आज भी उनको लोग पुण्यतिथि को बहुत सम्मान और श्रद्धा के साथ मनाते हैं और मैं भी आज उसी का हिस्सा बन कर के यहाँ भगवानपुर आया हूं।भगवानपुर में हमारे सभी लोग अपने हैं। लोगों को संदेश देना चाहता हूं आज हमलोगों को जात से उठकर के जमात का नेतृत्व करना है और सभी लोगों को समान रूप से देखना है। पूर्व विधायक डाॅ अच्युतानंद ने उन्हे 90 के दशक का साहसिक राजनेता बताया, वही पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष संजय सिंह ने कहा कि हेमन्त शाही की लोकप्रियता का परिणाम है कि इतने वर्षो बाद भी वैशाली की आम जनता उन्हे अपने दिलो मे जिंदा रखे हुए है। ब्रह्मर्षि महासभा के नेता धर्मवीर शुक्ला ने कहा कि हेमन्त शाही का व्यक्तित्व अद्वितीय था, समाज को इनकी कमी आज भी खलती है। डाॅ रुपक कुमार ने कहा कि पूर्व विधायक हेमन्त शाही आज होते तो लोकप्रियता के बल पर सांसद और मंत्री होते साथ ही उत्तर बिहार की राजनीतिक मे उनका वर्चस्व होता। हेमन्त शाही जी के श्रद्धांजलि सभा के आयोजक राणा सुरेश प्रसाद सिंह, शशि कुमार, अविनाश कुमार,धूर्जटी, कृष्ण कन्हैया, शशिकांत आदि थे वही उपस्थित लोगो में पूर्व मंत्री सुरेश शर्मा एवं अजित कुमार, पूर्व विधायक डाॅ अच्युतानंद सिंह एवं मुन्ना शुक्ला, पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष उमेश शाही एवं संजय सिंह, जिला पार्षद नीरज कुमार संटू एवं रंजीत कुमार, कांग्रेस नेता धर्मवीर शुक्ला, डाॅ रुपक कुमार, बुल्ला सिंह, मनोज शुक्ला, विनय सिंह,अशोक सिंह,मनोज सिंह, रंजीत सिंह,सुनील सिंह, दिनेश पाण्डेय, ध्रुव भारद्वाज,प्रभात कुमार,कृष्ण पासवान,सुबोध राय, किरा सिंह,कुमार गौरव,सुबोध कुमार आदि थे।

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?
Translate »
%d bloggers like this: