Download App

सिर्फ सदस्यता के समय या चुनाव के समय जागने से काम नहीं चलेगा: तेजस्वी प्रसाद यादव

पटना,बिहार दूत न्यूज।
राष्ट्रीय जनता दल के राज्य कार्यालय के सभागार में विधायक, विधान पार्षद, पूर्व विधायक, पूर्व विधान पार्षद, पूर्व प्रत्याशी की महत्वपूर्ण बैठक प्रदेश अध्यक्ष जगदानन्द सिंह की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। जिसका संचालन प्रदेश प्रधान महासचिव आलोक कुमार मेहता ने किया।

Advertisement


इस अवसर पर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव ने कहा कि राष्ट्रीय जनता दल अपने सदस्यता अभियान के लक्ष्य एक करोड़ की संख्या को पूरा करने के लिए संकल्पित है और सदस्य बनाने का कार्यक्रम निरंतर चल रहा है। लेकिन सिर्फ सदस्यता के समय या चुनाव के समय जागने से काम नहीं चलेगा।
इसके लिए हमेशा एकरूपता के साथ काम करनी होगी। क्योंकि लालू जी के विचारों से सभी लोग जुड़ना चाहते हैं और पार्टी के ए टू जेड के अभियान को जोड़ने के लिए सभी से संवाद बनाना होगा। इसके लिए सरजमीन पर काम करने की गंभीरता दिखानी होगी और जवाबदेही लेनी होगी। क्योंकि जो भी सदस्य बनें उन्हें इस बात का एहसास हो कि पार्टी के द्वारा उन्हें सम्मान दिया जा रहा है। प्रत्येक विधान सभा में 41152 सदस्य बनाने का लक्ष्य निर्धारित है और प्रत्येक पंचायत में करीब 1200 सदस्य। सदस्यता और पार्टी के काम के प्रति सोंच के साथ थोड़ा गंभीरता भी दिखानी होगी क्योंकि इस अभियान से हीं पार्टी का चुनाव और आगे मजबूती के अभियान का जो संकल्प है उसे पूरा करने में सहायता मिलेगी।
श्री जगदानन्द सिंह ने कहा कि सदस्यता अभियान जन जोड़ो अभियान है और यही पार्टी का आधार है। एक नम्बर की पार्टी बनाने के लिए हमसभी को जिम्मेदारी से काम करनी होगी और संगठन के साथ समन्वय बनाकर सदस्यता अभियान में सभी के साथ संवाद और व्यक्ति से जुड़ने का इसे माध्यम बनाना होगा। क्योंकि सदस्यता अभियान का विशेष महत्व है और इससे ही हम अपने लक्ष्यों की पूर्ति कर सकते हैं।
इस अवसर पर सांसद अहमद अशफाक करीम, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष उदय नारायण चौधरी, राष्ट्रीय महासचिव श्री श्याम रजक, भोला यादव, पूर्व मंत्री श्रीमती अनीता देवी, पूर्व सांसद सुखदेव पासवान, मुख्य प्रवक्ता भाई वीरेन्द्र, शक्ति सिंह यादव, एजाज अहमद, चितरंजन गगन, अख्तरूल इस्लाम शाहीन, समीर कुमार महासेठ, सारिका पासवान, ऋतु जायसवाल, कार्तिक कुमार, आजाद गांधी, संगठन महासचिव राजेश यादव सहित सभी विधायक, पूर्व विधायक, विधान पार्षद, पूर्व विधान पार्षद, पूर्व प्रत्याशी उपस्थित थे।

 

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?
Translate »
%d bloggers like this: