Download App

पटना: 29 वीं राष्ट्रीय एक्युप्रेशर एक्युपंक्चर सम्मेलन का किया गया आयोजन..

बिहार दूत न्यूज, पटना।
विश्व की पौराणिक चिकित्सा पद्धति एक्युप्रेशर (मर्मदाब) चिकित्सा विज्ञान की 29वीं राष्ट्रीय एक्युप्रेशर एक्युपंक्चर सम्मेलन का आयोजन आई.एम.ए. हॉल, गांधी मैदान में बिहार एक्युप्रेशर योग कॉलेज, पटना, इण्डियन काउन्सिल ऑफ एक्युप्रेशर योग एवं स्वास्थ्य जागरूकता मिशन के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित किया गया हैं।

Advertisement

सम्मेलन में बिहार सरकार के उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद, विधान परिषद् सभापति अवधेश नारायण सिंह, विधान सभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पाण्डेय, केन्द्रीय जलवायु मंत्री अश्विनी कुमार चौबे, सांसद रविशंकर प्रसाद, विधायक अरूण कुमार सिन्हा, संजीव चौरासिया, राम वचन राय, डा. सी.पी. ठाकुर, उपेन्द्र प्रसाद, पूर्व सिविल सर्जन डा. एल.पी.सिंह, ओपेन युनिवर्सिटी श्रीलंका के विजिटिंग प्रोफेसर डा. श्रीप्रकाश बरनवाल, डा. मनोज कुमार क्रमशः उद्घाटनकर्ता एवं मुख्य अतिथि रहे। अध्यक्षता एक्युप्रेशर महागुरू डा. सर्वदेव प्रसाद गुप्त ने किया स्वागतगान शाम्भवी प्रकाश ने किया।
सम्मेलन संयोजक डा. अजय प्रकाश ने बताया कि एक्युप्रेशर जनक डा. चन्द्रमा प्रसाद गुप्त के 102वीं जयन्ती एवं बिहार एक्युप्रेशर योग कॉलेज के पचासवीं वर्षगांठ के अवसर पर आयोजित इस कार्यक्रम में 16 राज्यों के चार सौ चयनित एक्युप्रेशर चिकित्सक भाग ले रहे।
कार्यक्रम की शुरूआत दीप प्रज्वलन एवं एक्युप्रेशर जनक के तैल चित्र पर मार्ल्यापण कर शंखनाद के साथ किया गया। अतिथियों का स्वागत डा. सर्वदेव प्रसाद गुप्त ने किया तथा अतिथियों को विकास पुरुष एवं कर्मवीर अवार्ड से सम्मानित किया गया। 16 चयनित चिकित्सकों को भी उत्कृष्ट कार्य हेतु गोल्ड मेडल एवं अन्य अवार्ड से सम्मानित किया गया। राष्ट्र स्तर पर आयोजित एक्युप्रेशर पखवाड़ा के अन्तर्गत हजारों शिविर का आयोजन 11 मई से 25 मई के बीच किया गया उनके 35 आयजकों से भी मोमेन्टो प्रदान कर सम्मानित किया गया। एक्युप्रेशर महागुरू डा. सर्वदेव प्रसाद गुप्त एवं डा. अजय प्रकाश द्वारा लिखित पुस्तक ‘क्लीनिकल एक्युप्रेशर’ तथा इस अवसर पर प्रकाशित स्मारिका का विमोचन भी अतिथियों द्वारा किया गया ।
द्वितीय वैज्ञानिक सत्र में चिकित्सकों द्वारा विभिन्न विषयों पर शोध पत्र प्रस्तुत किया गया तथा एक्युप्रेशर विकास हेतु सेतु बनाकर कई कार्यक्रमों की शुरूआत की योजना बनाई गयी। अतिथि सहित सभी के द्वारा डा. अजय प्रकाश एवं बिहार एक्युप्रेशर योग कॉलेज की भूरि-भूरि प्रशंसा की गयी कि विभिन्न कार्यक्रमों के तहत जन सेवा के साथ चार लाख लोगों को आत्मनिर्भर बनाने का कार्य भी किया गया है। आगामी समय में समाज के अन्तिम व्यक्ति तक एक्युप्रेशर चिकित्सा को पहुँचाने के उद्देश्य से कई कार्यक्रम करने की योजना के विषय में जानकारी दी गयी। कार्यक्रम के आयोजन में राजेश राघव, डा. राम बालक, डा. वीणा प्रकाश अनिता सिन्हा, डा. एस. के. पोद्दार, डा. कर्ण सिंह, डा. गीता कुमारी, पुष्पा बरनवाल, आदित्य प्रकाश, सर्व प्रकाश, जितेन्द्र कुमार श्रुति, डा. ब्युटी, डा. अभिषेक, परमानन्द कुमार, अभव्या, रीमा, सुधांशु, सोनी, आदि का सहयोग अत्यन्त सराहनीय रहा।

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?
Translate »
%d bloggers like this: