Download App

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के बिहार दौरे से पहले RJD ने रखी यह बड़ी मांग..

पटना: बिहार प्रदेश राष्ट्रीय जनता दल के प्रवक्ता एजाज अहमद ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के बिहार दौरे से पहले बिहार के लोगों की वास्तविक प्रश्नों और मुद्दों को पूरा करने के लिए इसे अमलीजामा पहनाने की मांग की है । और कहा कि सीमांचल और मिथिलांचल इलाके में जो बाढ़ की समस्या है, उसके स्थायी निदान के लिए केंद्र सरकार की ओर से कौन सा उपाय किया जा रहा है,ये बताने की कृपा करेगें। साथ ही साथ इन इलाकों में बाढ़ पीड़ितों के बीच केंद्रीय सहायता की राशि अब तक क्यों नहीं भेजी गई है क्या इसी तरह से सौतेला व्यवहार होते रहेगा ।

Advertisement

इन्होंने ने कहा कि सीमांचल के इलाकों में चाय ,अनानास की खेती,कई तरह के मसाले ,हल्दी और सब्जी की खेती इस ईलाके की आर्थिक उन्नति के साथ साथ युवाओं को रोजगार के साथ उन्हे आर्थिक रूप मजबूत होने का ये बडा साधन है ,क्योंकि बड़े बाजार भी नजदीक में ही उपलब्ध हो जाता है ,जो इस इलाके की तरक्की के लिए एक बड़ा आधार है।

एजाज ने आगे कहा कि बिहार दौरे से पहले केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह बिहार को विशेष राज्य का दर्जा या विशेष पैकेज की घोषणा करें, साथ ही साथ पूरे देश में जो दो करोड़ लोगों को रोजगार देने का वादा किया था उसे पूरा करने की ओर केंद्र सरकार कदम क्यों नहीं बढ़ाया । महंगाई ,बेरोजगारी को दूर करने के लिए केंद्र सरकार और केंद्रीय गृह मंत्री कब अपनी इच्छा शक्ति को जागृत करेंगे
इन्होंने कहा कि अफसोस की बात है कि सीमांचल इलाके के दौरा के लिए भाजपा की ओर से जो खाका बनाया गया है उसमें इसे ईलाके की तरक्की का कोई सोच और एजेंडा नहीं है, बल्कि कहीं ना कहीं इस इलाके में भाजपा के लिए राजनीतिक आधार तैयार करने के उद्देश्य में भाजपा के एजेंडा को आगे रखना चाहते हैं जबकि महागठबंधन की सरकार मोहब्बत की राजनीति को बढ़ावा देकर बिहार में तरक्की और आर्थिक उन्नति के साथ साथ युवाओं और छात्रों को रोजगार तथा तालीम के बेहतर माहौल से जोड़ना चाहती है।
एजाज ने केंद्र सरकार से अविलंब अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के शाखा किशनगंज के भवन निर्माण की दिशा मे कारवाई के तेज करने और भवन स्थापित करने के लिए आर्थिक सहायता के साथ-साथ अन्य तरह की सहायता भी उपलब्ध कराये जाने की मांग की है, जिससे सीमांचल इलाके में शैक्षणिक वातावरण को बेहतर बना कर सभी लोगों को शिक्षा और तालीम से जोड़ा जा सके जो देश के तरक्की का यह मुख्य आधार बने।

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?
  • Add your answer
Translate »
%d bloggers like this: