Download App

समस्तीपुर : ताजपुर में विभिन्न जनसमस्या को लेकर माले ने बीडीओ को सौंपा स्मार – पत्र..

संजय भारती , समस्तीपुर

समस्तीपुर जिला के ताजपुर में दलित – गरीबों के घर पर बुलडोजर चलाने पर रोक लगाने , भूमिहीनों को जमीन एवं पक्का मकान देने , बकाया बिजली बिल माफ करने , 2 सौ यूनिट बिजली फ्री देने , प्रीपेड मीटर पर रोक लगाने , भूख – कुपोषण से जुझते गरीबों का राशनकार्ड से नाम हटाने पर रोक लगाने , कार्डधारी को दाल , तेल , चीनी , मशाला उपलब्ध कराने एवं विधवा – विकलांग पेंशन सहित सभी वृद्धों को 3 हजार रूपये मासिक पेंशन देने , मनरेगा में दो सौ दिन काम एवं 6 सौ रूपये दैनिक मजदूरी कार्यस्थल पर देने , पोर्टल पर निबंधित सभी मजदूरों को विशेष महंगाई भत्ता देने , पहुंचपथ से बंचित दलित – गरीब – अक्लियतों के मुहल्ले में पहुंचपथ की व्यवस्था करने आदि मांगों को लेकर प्रखंडों – अंचलों पर खेग्रामस के राज्यव्यापी धरना – प्रदर्शन अभियान के तहत बृहस्पतिवार को अखिल भारतीय खेत एवं ग्रामीण मजदूर सभा एवं भाकपा माले द्वारा प्रखण्ड विकास पदाधिकारी मनोज कुमार एवं अंचलाधिकारी सीमा रानी को स्मार – पत्र सौंपकर उक्त सभी मांगों को पूरा करने की मांग रखी । ससमय मांगे पूरी नहीं की जाती है तो भाकपा माले के प्रतिनिधिमंडल आंदोलन तेज करने की चेतावनी दी । प्रतिनिधिमण्डल का नेतृत्व भाकपा माले प्रखण्ड सचिव सुरेन्द्र प्रसाद सिंह ने किया । मौके पर माले प्रखण्ड कमिटी सदस्य मो० एजाज , ब्रहमदेव प्रसाद सिंह समेत मो० कैयूम , उपेंद्र शर्मा आदि मौजूद थे । वहीं माले प्रखण्ड सचिव सुरेन्द्र प्रसाद सिंह ने कहा कि ताजपुर प्रखण्ड , अंचल , एवं नगर परिषद कार्यालय में भ्रष्टाचार का बोलबाला है । आसानी से होने वाले काम के लिए भी लोगों को कार्यालय का चक्कर लगाना पड़ता है । कर्मी का आभाव बताकर कार्य करने में कोताही बरती जाती है । आपूर्ति कार्यालय कर्मी , पेंशन कर्मी आदि 3 दिन अनुमंडल कार्यालय तो 3 दिन प्रखंड , अंचल एवं आपूर्ति कार्यालय में बैठते हैं । इससे जरूरतमंदों का कार्य समय से नहीं हो पाता है । माले नेता ने जनहित के कार्यों को ससमय संपादित नहीं करने पर झोभ व्यक्त करते हुए आंदोलन तेज करने की घोषणा की ।

Leave a Comment

[democracy id="1"]
Translate »