Download App

CM नीतीश ने नवचयनित प्रखंड पंचायत राज पदाधिकारियों के नियुक्ति पत्र किया वितरण..

बिहार दूत न्यूज़, पटना।

Advertisement

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार आज सम्राट अशोक कन्वेंशन केंद्र स्थित ज्ञान भवन में आयोजित विज्ञान एवं प्रावैधिकी विभाग के नवचयनित सहायक प्राध्यापक (असैनिक) एवं पंचायती राज विभाग के प्रखंड पंचायत राज पदाधिकारियों के नियुक्ति पत्र वितरण कार्यक्रम में शामिल हुए।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने सांकेतिक रूप से विज्ञान एवं प्रावैधिकी विभाग के 5 नवचयनित सहायक प्राध्यापक (असैनिक) एवं पंचायती राज विभाग के 5 प्रखंड पंचायत राज पदाधिकारियों को नियुक्ति पत्र सौंपा।

इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि ये खुशी की बात है कि आज विज्ञान एवं प्रावैधिकी विभाग के 281 नवचयनित सहायक प्राध्यापक (असैनिक) तथा पंचायती राज विभाग के 144 प्रखण्ड पंचायत राज पदाधिकारियों को नियुक्ति पत्र दिया गया है। कुल 425 पदों पर नियुक्ति पत्र वितरण किया गया। सभी लोगों ने विस्तार से सब कुछ बता दिया है। आज उप मुख्यमंत्री श्री तेजस्वी प्रसाद यादव जी का जन्मदिन भी है, मैं उनके जन्मदिन पर उन्हें बधाई और शुभकामनायें देता हूँ।

मुख्यमंत्री ने कहा कि विज्ञान एवं प्रावैधिकी विभाग के द्वारा हमलोगों ने हर जिले में एक-एक अभियंत्रण महाविद्यालय और 48 पॉलिटेक्निक संस्थानों का प्रावधान कर दिया है। लगभग सभी जगह निर्माण कार्य पूर्ण है और पढ़ाई की जा रही है। पहले इंजीनियरिंग की पढ़ाई के लिए लोगों को बाहर जाना पड़ता था। उन्होंने कहा कि जब हम केंद्र में मंत्री थे और विभिन्न राज्यों में जाते थे तो वहां के इंजीनियरिंग कॉलेजों में बड़ी संख्या में बिहार के छात्र दिखते थे। अब सबलोगों को बिहार में ही इंजीनियरिंग की पढ़ाई की सुविधा उपलब्ध हो गयी है। उन्होंने कहा कि अभियंत्रण महाविद्यालय में अभी 337 शिक्षक कार्यरत हैं। 2241 और पद स्वीकृत किया गया है। 398 पदों का चयन हुआ है जिसमें से आज 281 लोगों को नियुक्ति पत्र दिया गया। 687 पदों पर साक्षात्कार चल रहा है। जितने और लोगों की बहाली की जरुरत है उनकी बहाली जल्दी ही की जाएगी। डॉक्टर इंजीनियर पुलिस सहित अन्य विभागों में जितनी बहाली की जरुरत होगी वो शीघ्र पूरी की जायेगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पंचायती राज विभाग द्वारा पंचायत सरकार भवन का सभी जगहों पर निर्माण किया जा रहा है। हमने पंचायत सरकार भवन बनवाकर केन्द्र सरकार और राज्य सरकार की तरह ही पंचायतों में पंचायत सरकार का नामकरण किया। यहां भी जो बडाली होनी है उसकी भी स्वीकृति दी जा चुकी है। सभी पंचायतों में सारा काम किया जा रहा है। हर स्तर पर लोगों की बहाली की जानी है। हमारी इच्छा है कि सब काम अच्छे ढंग से हो जाए। उन्होंने कहा कि हमारी मांग पर 15वें वित्त आयोग ने जिला, प्रखण्ड और पंचायत स्तर पर पंचायती राज संस्थाओं एवं नगर निकाय संस्थाओं के लिये राशि का प्रावधान किया है। हमलोग राज्य सरकार की तरफ से भी जो फंड है उसको इन तीनों स्तर पर दे रहे हैं ताकि किसी भी प्रकार से काम करने में दिक्कत न हो। हम चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादाब च्चे-बच्चियां पढ़ें और आगे बढ़ें। पहले की स्थिति से आज बच्चे-बच्चियों की स्थिति में काफी बदलाव आया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में विकास के कई काम किये जा रहे हैं। हर घर बिजली, हर घर तक नल का जल, पक्की नली गली का निर्माण, हर घर शौचालय का निर्माण किया गया है। लोगों को जो भी सुविधायें दी जा रही हैं उसके मेंटेनेंस को भी देखते रहना है जो काम किये जा रहे हैं उसकी सतत् निगरानी के साथ-साथ उसके मेंटनेंस पर भी नजर रखना है। भवन, सड़क, पुल, पुलियों के भी मेंटेनेंस को देखते रहना है। सरकार जिन चीजों क निर्माण कार्य करती है, उसका मेंटेनेंस होना चाहिये। सभी कार्यों का क्रियान्वयन ठीक ढंग से हो, इसपर ध्यान देना है। उन्होंने कहा कि गांव में अब रातों में सोलर स्ट्रीट लाइट के माध्यम से रौशनी उपलब्ध होगा, गांव का दृश्य अच्छा लगेगा। जो लोग गांव छोड़कर जा रहे थे उनको अपने गांव में ही विकास होने से अच्छा लगेगा। कृषि के विकास को लेकर काम किये जा रहे हैं। कृषि के विकास से गांव में भी लोगों को और रोजगार मिलेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी स्कूलों कॉलेजों में बच्चे-बच्चियों को आपदा से कैसे बचें इसके संबंध में जानकारी देना है। लोगों को जागरूक करना है। लोगों को इसके संबंध में ज्ञान रहेगा तो वे सुरक्षित रहेंगे और आपदा के समय में कम से कम नुकसान होगा। इसके लिए पढ़ाई के अलावे लगातार लोगों को जागरूक करते रहना है। सभी नवनियुक्त लोगों को मेरी बधाई है और शुभकामना है कि वे निरंतर आगे बढ़ें और ठीक से काम करते रहें। विज्ञान एवं प्रावैधिकी विभाग तथा पंचायती राज विभाग को आज के नियुक्ति पत्र वितरण के लिये बधाई देता हूं और आशा करता हूँ कि बची हुयी बहाली की प्रक्रिया को तेजी से पूर्ण करेंगे। ज्यादा से ज्यादा लोगों की बहाली का काम करते रहिए जो और बहाली होनी है, उसको पूरी सक्रियता से पूर्ण करें। उन्होंने कहा कि लोगों को नौकरी भी मिलेगी और रोजगार भी मिलेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मेरा सबसे विनम्र आग्रह है कि आपस में प्रेम और भाईचारे का भाव बनाए रखें जाति और धर्म के नाम पर झगड़ा नहीं करना चाहिए। आपस में मिलकर रहिएगा तो विकास कीजिएगा, झगड़ा कीजिएगा तो विकास का काम रुक जाएगा। इसलिए सभी लोग आपस में मिलकर रहें। समाज में कम से कम विवाद होने से समाज में अच्छा

वातावरण रहेगा, राज्य और देश आगे बढ़ेगा। कार्यक्रम में पंचायती राज विभाग के प्रधान सचिव मिहिर कुमार सिंह ने मुख्यमंत्री को हरित पौधा भेंटकर स्वागत किया।

कार्यक्रम को उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव, विज्ञान एवं प्रावैधिकी मंत्री सुमित कुमार सिंह, पंचायती राज मंत्री मुरारी प्रसाद गौतम, मुख्य सचिव आमिर सुबहानी, पंचायती राज विभाग के प्रधान सचिव श्री मिहिर कुमार सिंह तथा विज्ञान एवं प्रावैधिकी विभाग के सचिव लोकेश कुमार सिंह ने भी संबोधित किया।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव दीपक कुमार सहित अन्य वरीय पदाधिकारीगण, शिक्षकगण एवं नियुक्ति पत्र पानेवाले नवचयनित सहायक प्राध्यापक एवं प्रखंड पंचायत राज पदाधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?
Translate »
%d bloggers like this: