Download App

समस्तीपुर: जिला परिषद की सामान्य बैठक में अनुपस्थित अधिकारियों के वेतन पर रोक लगाने का लिया गया निर्णय..

संजय भारती , समस्तीपुर।

समस्तीपुर जिला परिषद के सामान्य बैठक का आयोजन शुक्रवार को किया गया।
कार्यक्रम की अध्यक्षता जिला परिषद अध्यक्ष खुशबू कुमारी ने की।
वहीं इस कार्यकर्म का संचालन मुख्य कार्यपालक पदाधिकारी अजय कुमार तिवारी ने किया । बैठक में अनुपस्थित अधिकारियों के वेतन पर रोक लगाने का निर्णय लिया गया । बैठक में जिला परिषद अध्यक्ष ने कहा कि इस वर्ष जिला परिषद के प्रशासनिक स्वरूप में बिहार सरकार द्वारा किए गए बदलाव का असर जिला परिषद के कार्यों एवं योजनाओं पर पड़ा है । लेकिन इस कमी को भी पूरी तत्परता से पूरा कर लिया जाएगा । उन्होंने बताया कि प्रशासनिक स्वरूप में बदलाव के बाद भी अन्य जिलों की तुलना में समस्तीपुर जिला परिषद ने विभिन्न योजनाओं में प्रशासनिक स्वरूप में बदलाव के बाद भी अन्य जिलों की तुलना में जिला परिषद ने विभिन्न योजनाओं में प्रशासनिक स्वीकृति प्रदान कर बिहार के अग्रणी जिला में अपना स्थान सुनिश्चित किया है । जिला परिषद के माध्यम से मनरेगा योजना के क्रियान्वयन में काफी तत्परता के साथ प्रक्रिया शुरू की जा रही है । जिला परिषद कार्यालय में आमजन की सुनवाई एवं निदान हेतु जनता दरबार का आयोजन हेतु का प्रयास किया जा रहा है । जिला परिषद के मुख्य कार्यपालक पदाधिकारी सह अपर समाहर्ता अजय कुमार तिवारी के पदस्थापन के बाद जिले में आम जनता के समस्याओं की सुनवाई एवं उसका निदान पूरी तत्परता के साथ पूरा करने में भूमिका सराहनीय है । जिला परिषद के कार्यों में सक्रियता के साथ ही सहयोग में अपर मुख्य कार्यपालक पदाधिकारी अनुग्रह नारायण सिंह का योगदान भी काफी सराहनीय रहा । जिला परिषद उपाध्यक्ष अंजना कुमारी ने सभी सदस्यों को बैठक हेतु यात्रा भत्ता दिए जाने की मांग की।
बैठक में समस्तीपुर विधान परिषद सदस्य डा. तरुण कुमार ने बहादुरपुर में नवनिर्मित जिला परिषद की दुकानों में अवैध अतिक्रमणकारियों से खाली कराने का मामला उठाया । वहीं मोरवा विधायक रणविजय साहू ने भी विकास की गति को लेकर मुद्दा उठाया । मोहनपुर के पार्षद अनिल कुमार राय , अनुज कुमार ने प्रखंड विकास पदाधिकारी द्वारा शिक्षकों की प्रतिनियुक्ति का मामला उठाया । जिला पार्षद साकेत कुशवाहा ने विद्यालय में कार्यरत शिक्षक द्वारा विद्यालय के समय में कोचिंग संचालन करने वालों पर कार्रवाई की मांग की । बैठक का संचालन करते हुए अपर समाहर्ता सह मुख्य कार्यपालक पदाधिकारी अजय कुमार तिवारी ने सभी का स्वागत करते हुए बैठक की महत्व पर प्रकाश डाला । उन्होंने सभी जिला परिषद सदस्यों से शांतिपूर्ण तरीके से समस्या एवं सुझाव देने का आग्रह किया । अपर समाहर्ता ने उपस्थित सभी विभागीय पदाधिकारी को समस्याओं पर त्वरित कार्रवाई करते हुए रिपोर्ट जमा करने का निर्देश दिया । अपर मुख्य कार्यपालक पदाधिकारी अनुग्रह नारायण सिंह ने विभागों से प्राप्त अनुपालन रिपोर्ट को सदन में रखा । मौके पर जिला परिषद सदस्य श्वेता यादव , सुनीता कुमारी शर्मा , रिंकी कुमारी , पुनीता कुमारी , लक्ष्मी कुमारी , रवि रौशन कुमार , नवीता देवी , सुनीता देवी , उर्मिला देवी , मंजू देवी ,धर्मेंद्र पासवान , अजहर आलम , अशोक अंजाना , अरुण कुमार गुप्ता , संतोष कुमार साह , कैलाशी दास , किरण कुमारी , आदि उपस्थित रहे ।

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?
Translate »
%d bloggers like this: