Download App

सरदार पटेल एकता अखण्डता के सूत्रधार थे : बबलू मंडल

खगड़िया, बिहार दूत न्यूज।

जदयू कार्यालय में शुक्रवार को देश के प्रथम गृह मंत्री, महान स्वतंत्रता सेनानी भारत रत्न लौहपुरुष वल्लभ भाई पटेल की 73 वीं पुण्यतिथि जदयू के जिला अध्यक्ष बबलू कुमार मंडल की अध्यक्षता में मनायी गई।मौके पर जदयू नेताओं के द्वारा उनकेे तैलचित्र पर माल्यार्पण एवं पुष्पांजलि अर्पित कर श्रद्धांजलि देते हुए नमन किया गया और उनके नाम का गगनभेदी जयकारे लगाये गये।


अपने अध्यक्षीय संबोधन में जदयू के जिला अध्यक्ष बबलू कुमार मंडल ने कहा कि सरदार पटेल अपने साहस,समर्पण और त्याग के बल पर भारत को श्रेष्ठता का स्वरूप में सजाकर संप्रभुता सम्पन्न बनाने में अहम योगदान दिये; जो आज भी प्रासंगिक है।वे राष्ट्र की एकता अखण्डता के सूत्रधार थे जिन्होंने अपने संपूर्ण जीवन अखण्ड भारत के निर्माण व सद्भावना स्थापित करने में न्योछावर कर दिये थे।वास्तव में सरदार पटेल आधूनिक भारत के शिल्पकार थे।उनकी वीरतापूर्ण जीवनी देश वासियों के लिए प्रेरणास्रोत है।
जदयू के जिला प्रवक्ता आचार्य राकेश पासवान शास्त्री तथा कोषाध्यक्ष संदीप केडिया ने कहा कि उत्कृष्ट कूटनीतिज्ञ लौहपुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल राष्ट्रीय एकता के सार्वकालिक प्रतीक और अखिल भारतीय सेवाओं के जनक थे।वे दृढ़ निश्चयी व्यक्तित्व के धनी महापुरुष थे।
इस अवसर पर पिछड़ा प्रकोष्ठ के प्रदेश महासचिव उमेश सिंह पटेल,जिला उपाध्यक्ष रामविलाश महतों, उदय प्रसाद सिंह,मानसी प्रखण्ड अध्यक्ष राजनीति प्रसाद सिंह ,श्रम प्रकोष्ठ के प्रदेश महासचिव मनोज कुमार,जिला महासचिव अंगद कुमार,युवा जदयू के जिला अध्यक्ष सावन कुमार बन्टी,छात्र जिला अध्यक्ष सिद्धांत कुमार छोटू सिंह,पंचायत अध्यक्ष बुद्धन सदा,युवा जदयू के जिला कोषाध्यक्ष नवनीत कुमार सिंह,नीतीश कुमार,विकास कुमार,मो0 जमशेद आलम,गणेश सिंह ,बिट्टू कुमार एवं राजीव कुमार ठाकुर आदि दर्जनों पार्टी के नेताओं ने लौहपुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल के कृतित्व एवं व्यक्तित्व पर विस्तृत रूप से प्रकाश डालते हुए कहा कि उनकी ओजस्वी पूर्ण कृति अनुकरणीय है।

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?
  • Add your answer
Translate »
%d bloggers like this: