Download App

समस्तीपुर : विद्युत संकट के खिलाफ माले ने आंदोलन का किया शंखनाद , जुलूस निकालकर फूंका पुतला

संजय भारती , समस्तीपुर।

समस्तीपुर जिला में विद्युत संकट से गुस्साये ताजपुर वासियों ने भाकपा माले के बैनर तले मंगलवार को गांधी चौक के निकट जुलूस निकालकर लचर विद्युत विभाग के खिलाफ नारेबाजी करते हुए पूतला दहन किया । जिला भर में भीषण विधुत संकट से परेशान बड़ी संख्या में स्थानीय लोगों ने गांधी चौक पर ईकट्ठा होकर भाकपा माले के बैनर तले जुलूस निकाला । हाथों में मांगों से संबंधित नारे लिखे कार्डबोर्ड लेकर विभाग की मनमानी के खिलाफ जुलूस निकालकर बाजार क्षेत्र में भ्रमण करते हुए गांधी चौक पहुंचकर सभा में तब्दील हो गया । सभा को ब्रहमदेव प्रसाद सिंह , आसिफ होदा , मो० एजाज़ , शंकर महतो , राजदेव प्रसाद सिंह , मो० कयूम आदि ने सभा को संबोधित किया । मौके पर अपने अध्यक्षीय संबोधन में प्रखंड सचिव सुरेन्द्र प्रसाद सिंह ने कहा कि जिला के कई प्रखंडों में विभाग ने कम्पनी के माध्यम से तार , पोल , ट्रांसफार्मर लगाने का काम पूरा किया लेकिन ताजपुर में कार्यरत कम्पनी ने पैसा उठाकर फरार हो गया । माले के पहल पर जेई ने मोतीपुर , चकमोतीपुर आदि जगहों पर ठेकेदार को भेजकर किसानों के लिए तार , पोल , ट्रांसफार्मर लगाने को सर्वे कराया । इनके अनुसार एक सप्ताह के अंदर कार्य होना था लेकिन करीब महीना बीतने को है , काम होने का आसार दिखाई नहीं पड़ रहा है । माले नेता ने कहा कि छोटी – छोटी गड़बड़ी के कारण ताजपुर में प्रायः ही बिजली बाधित रहती है लेकिन जेई उपरी अधिकारी से मांग करने से बचते रहते हैं । विभाग के पास ट्रांसफार्मर तो छोड़िये तार , पोल , एवी स्वीच , हैंडल , अर्थिंग वायर तक उपलब्ध नहीं है । फतेहपुर से योगियामठ तक 11 हजार वोल्टेज के तार में दर्जनों जगह पर जोड़ है । तार गलकर गिरने से हमेशा विद्युत बाधित रहता है लेकिन विभाग तार बदलने की जहमत नहीं उठा रही है । चकमोतीपुर में बैधनाथ सहनी , ननकी दास , जयनारायण दास आदि के छत में सटकर 440 वोल्टेज का नंगा तार गुजर रहा है । कई बार जान – माल की हानि हो चुकी है लेकिन विभाग आश्वासन के बाद इंसुलेटेड वायर नहीं लगा रहा है । ताजपुर गांधी चौक समेत कई ट्रांसफार्मर का बुश जला हुआ है । कहीं एवी स्वीच , कहीं हैंडल खराब है तो कहीं ट्रांसफार्मर ही औभरलोडेड है । विभाग में मिस्त्री , मानव बल आदि की कमी भी है । माले नेता ने तमाम त्रुटि दूर कर प्रतिदिन कम से कम 22 घंटे निर्बाध विद्युत आपूर्ति करें अन्यथा आंदोलन को तेज किया जायेगा । सभा के अंत में आन्दोलनकारियों ने विद्युत विभाग का पूतला फूंककर विरोध जताया ।

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?
Translate »
%d bloggers like this: